मुख्यमंत्री रमन सिंह के बेटे पर छत्तीसगढ़ में अगस्ता घोटाले का आरोप

0

आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता और स्वराज अभियान से जुड़े प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव ने छत्तीसगढ़ की बीजेपी सरकार पर आरोप लगाया कि उसने अगस्ता वेस्टलैंड का हेलीकॉप्टर खरीदने के लिए संदेहपूर्ण तरीके से वैश्विक निविदा जारी की और इसमें दूसरे विकल्पों पर गौर किए बिना 30 प्रतिशत से भी ज्यादा करीब 15.7 लाख डॉलर का कमिशन दिया।
prashant-bhushan-swaraj-abhiyan

प्रशांत भूषण के मुताबिक छत्तीसगढ़ में अगस्ता वेस्टलैंड का हेलीकॉप्टर खरीदने के लिए वैश्विक निविदा जारी करने का पाखंड किया गया। जबकि निविदा में यह लिख दिया गया था कि कौन से मॉडल की खरीद की जानी है। इसमे दिलचस्प बात यह है कि अगस्ता वेस्टलैंड, इसके कमीशन एजेंट और इसके सेवा प्रदाता की बोलियां स्वीकार की गईं। इसके आधार पर अनुबंध को अंतिम रूप दिया गया। प्रशांत भूषण ने कहा कि हेलीकॉप्टर की कीमत 51 लाख डॉलर थी जिसे अगस्ता वेस्टलैंड को दिया गया और 15.7 लाख डॉलर का कमीशन ब्रिटिश वर्जिन आईलैंड आधारित कंपनी शार्प ओशन को दिया गया।

Also Read:  माल्या को नहीं करेंगे डिपोर्ट: ब्रिटेन

एनडीटीवी इंडिया के मुताबिक प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव ने दावा किया कि 15.7 लाख डॉलर का ये कमिशन ऐसी कंपनी को दिया गया जिसका पंजीकरण टैक्स चोरी की पनाहगाह माने जाने वाले ब्रिटिश वर्जिन आईलैंड में हुआ था। इस विवाद में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह के बेटे अभिषेक का नाम लेते हुए प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव ने कहा कि अभिषेक ने 3 जुलाई, 2008 को क्वेस्ट हाइट्स लिमिटेड नाम की कंपनी बनाई थी और इसके करीब छह महीने पहले छत्तीसगढ़ सरकार की तरफ से ‘शार्प ओशन’ नाम की एजेंट कंपनी को इस मोटी रकम का भुगतान किया गया था।

Also Read:  सहारनपुर हिंसा: भीम आर्मी का मुखिया चंद्रशेखर आजाद हिमाचल प्रदेश से गिरफ्तार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here