अक्षय कुमार के कनाडा पासपोर्ट और पीएम मोदी संग इंटरव्यू का अभिनेता सिद्धार्थ ने उड़ाया मजाक, डॉनल्ड ट्रंप को किया यह ट्वीट

0

फिल्म ‘रंग दे बसंती’ से बॉलीवुड में एक अलग पहचान बनाने वाले अभिनेता सिद्धार्थ ने प्रधानमंत्री मोदी का ‘गैर-राजनीतिक साक्षात्कार’ लेने को लेकर अक्षय कुमार पर निशाना साधा। बता दें कि, अक्षय कुमार कनाडा की नागरिकता को लेकर लगातार आलोचना झेल रहे हैं।

सिद्धार्थ

मुंबई में 29 अप्रैल को वोट न डालने के बाद ट्रोल हुए अक्षय कुमार ने एक बयान में अपनी नागरिकता को लेकर उठ रहे सवालों का जवाब दिया। उन्होंने माना कि वह कनाडा के नागरिक हैं। लेकिन लगता है कि अभी भी कई लोग उन्हें बख्शने के मूड में नहीं है। अब ऐक्टर सिद्धार्थ ने अक्षय कुमार को अपने निशाने पर ले लिया है।

बता दें कि, इससे पहले अभिनेता सुर्खियों में इसलिए थे, क्योंकि उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी का एक ‘गैर-राजनीतिक साक्षात्कार’ लिया था, जिसमें ‘आम पसंद है या नहीं’, ‘आम छीलकर खाते हैं या काटकर’ जैसे सवाल पूछे थे। इस पर चुटकी लेते हुए सिद्धार्थ ने कहा कि वह अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप का साक्षात्कार लेना चाहते हैं, और उनके काम करने और सोने को लेकर उनसे सवाल पूछना चाहते हैं।

सिद्धार्थ ने शुक्रवार को ट्वीट किया, “हे डोनाल्ड ट्रंप, क्योंकि आप जल्दी ही फिर से एक बार और चुने जाएंगे, क्या मैं आपका एक साक्षात्कार ले सकता हूं? मेरे पास बहुत से प्रश्न हैं, जैसे आप फलों को कैसे खाते हैं, आप सोते कैसे हैं, काम की आदत कैसी है और हां आपके प्यारे व्यक्तित्व को लेकर भी कई सवाल हैं।” इसके साथ ही 40 वर्षीय अभिनेता ने कहा, “मेरे पास भारतीय पासपोर्ट है, कृप्या सीधा मुझे मैसेज करें।”

फिल्म रंग दे बसंती के साथ ही बॉलीवुड में एक अलग पहचान बनाने वाले एक्टर सिद्धार्थ सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं और वे राजनीति, खेल, सिनेमा और सोशल मुद्दों से जुड़े तमाम चीज़ों पर अपनी प्रतिक्रिया देते रहे हैं।

मुंबई में 29 अप्रैल को वोट न डालने के बाद ट्रोल हुए अक्षय कुमार ने एक बयान में अपनी नागरिकता को लेकर उठ रहे सवालों का जवाब दिया। इस संबंध में अक्षय ने ट्विटर पर एक स्टेटमेंट जारी किया था। जिसमें लिखा था, ‘मुझे वाकई समझ नहीं आता कि मेरी नागरिकता में इतनी दिलचस्पी क्यों ली जा रही है और उसे लेकर इतनी नकारात्मकता क्यों फैलाई जा रही है? मैंने न तो कभी यह सच छिपाया और न ही इनकार किया कि मेरे पास कनाडा का पासपोर्ट है। हालांकि यह भी सच है कि बीते 7 सालों में मैं एक बार भी कनाडा नहीं गया हूं। मैं भारत में काम करता हूं और अपने सभी टैक्स यहीं भरता हूं।’

उन्होंने आगे कहा, इतने सालों में मुझे अपने देश भारत के लिए अपना प्रेम साबित करने की जरूरत नहीं पड़ी, लेकिन यह देखकर बेहद दुख होता है कि मेरी नागरिकता को फिजूल का मसला बनाया जा रहा है और जबरदस्ती विवादों में घसीटा जा रहा है। यह एक निजी, लीगल और गैर-राजनीतिक मुद्दा है। साथ ही अन्य लोगों के लिए भी यह फिजूल का मुद्दा है। आखिर में मैं यही कहना चाहूंगा कि अपने देश भारत को मजबूत बनाने के लिए मै अपना योगदान देता रहूंगा।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here