यूपी के मंत्री के काफिले से कुचलकर 8 वर्षीय मासूम की मौत, ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन, CM योगी ने दिए कार्रवाई के निर्देश

0

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मंत्री ओम प्रकाश राजभर के काफिले की गाड़ियों की चपेट में आने से शनिवार (28 अक्टूबर) को आठ साल के एक बच्चे की मौत हो गई। दुर्घटना के बाद मंत्री का काफिला मौके पर न रुकने और पुलिस पर लीपापोती करने का आरोप लगाते हुए ग्रामीणों ने सड़क पर शव रखकर काफी देर तक प्रदर्शन किया। यह घटना गोंडा के करनैलगंज थाना क्षेत्र के करनैलगंज परसपुर मार्ग की है।

File Photo

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सबसे चौंकाने वाली बात यह रही कि बच्चे से टकराने के बाद भी मंत्री का काफिला रुका नहीं। इस बात से नाराज ग्रामीणों ने नाराज होकर शव को सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। सड़क पर कुछ जगहों पर आगजनी भी हुई। काफी मशक्कत के बाद पुलिस ने जाम को हटवाया और यातायात चालू किया गया।

पिता की ओर से मंत्री के काफिले में अज्ञात के खिलाफ तहरीर दी गई है। गोसाईं पुरवा निवासी बच्चे के पिता विश्वनाथ के मुताबिक गाड़ी कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर की थी। विश्वनाथ ने मंत्री राजभर के खिलाफ करनैलगंज थाने में मुकदमा लिखवाया है। ग्रामीणों ने ये भी आरोप लगाया कि पुलिस ने जबरदस्ती शव को हटवाने की कोशिश की।

हालांकि, घटना की जानकारी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को मिलने के बाद उन्होंने मृतक के परिजनों को पांच लाख रुपये की आर्थिक मदद देने और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का निर्देश दिया है।

जानकारी के मुताबिक, कोतवाली करनैलगंज क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले गोसाईं पुरवा मौजा बबुरास के रहने वाले विश्वनाथ का बेटा शिवा (मृतक) अपनी मां और बुआ के साथ सड़क की बाईं तरफ से जा रहा था उसी वक्त मंत्री ओमप्रकाश राजभर का काफिला निकल रहा था और उनमें से एक गाड़ी ने बच्चे को टक्कर मार दी जिसके कारण मासूम की मौके पर ही मौत हो गई।

इस मामले की पुष्टि करते हुए गोंडा के एडिशनल सुप्रींटेंडेंट ऑफ पुलिस हृदेश कुमार ने संडे एक्सप्रेस को बताया कि कर्नलगंज इलाके के पास मंत्री की गाड़ी ने शिवा गोस्वामी को टक्कर मार दी जिसके कारण उसकी मृत्यु हो गई। उन्होंने बताया कि मृतक बच्चे के पिता विश्वनाथ ने शिकायत दर्ज कराई है। इस मामले को गंभीरता से देखते हुए बेतुके ढंग से गाड़ी चलाने और लापरवाही का केस दर्ज किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here