2017 में इन 24 लेखकों को साहित्य अकादमी पुरस्कार से किया गया सम्मानित

0

भारतीय भाषाओं के 24 प्रतिष्ठित लेखकों को बुधवार को साहित्य अकादमी पुरस्कार से नवाजा गया। यह सम्मान उन्हें भारतीय भाषाओं की रचना के लिए दिया गया। उन्हें यह पुरस्कार साहित्य अकादमी पुरस्कार वार्षिक ‘फेस्टीवल ऑफ लेटर्स’ के तहत दिया गया। सभी विजेताओं को एक-एक लाख रुपये का अनुग्रह राशि प्रदान की गई।

इन 24 लेखकों को साहित्य अकादमी पुरस्कार
पुरस्कार देते हुए अकादमी के अध्यक्ष विश्वनाथ प्रसाद तिवारी ने कहा कि उन्हें इसे ‘पुरस्कार’ कहना पसंद नहीं है, बल्कि वह ‘सम्मान’ कहना पसंद करते हैं। उनके मुताबिक ‘पुरस्कार’ शब्द ‘वित्तीय’’ पक्ष को दिखाता है जो इस तरह के लेखकों के लिए मायने नहीं रखता है। पुरस्कार समारोह के मुख्य अतिथि प्रसिद्ध भौतिक विज्ञानी और मराठी लेखक जयंत विष्णु नार्लीकर थे। हल्बी, कुरख और लद्दाखी जैसी भाषाओं के लेखकों को भी क्षेत्रीय भाषाओं को बढ़ावा देने में उनके योगदान के लिए सम्मानित किया गया।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 24 भारतीय भाषाओं के लेखकों को सम्मानित किया गया है। जिसमें अंग्रेज़ी, हिंदी, बंगाली, उर्दू, संस्कृत, बोडो, कश्मीरी, मणिपुरी, और नेपाली भाषाएँ शामिल हैं। साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित लेखकों में जेरी पिंटो, नासिरा शर्मा, प्रभा वर्मा, कमल वोरा और परमिता सतपति शामिल हैं।

इस वर्ष अकादमी का वार्षिक संवत्सर व्याखान प्रतिष्ठित विद्वान और इतिहासकार रामचंद्र गुहा देंगे। वह ‘द क्राफ्ट ऑफ हिस्टोरिकल बायोग्राफी’ पर व्याख्यान देंगे। बता दें कि, 21 फरवरी को शुरू हुआ यह उत्सव 26 फरवरी तक चलेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here