आंध्र प्रदेश: चित्तूर में बेकाबू ट्रक ने प्रदर्शन कर रहे किसानों को कुचला, 20 की मौत, 15 घायल

0

आंध्र प्रदेश के चित्तूर में शुक्रवार(21 अप्रैल) को प्रदर्शन कर रहे किसानों को एक बेकाबू ट्रक ने कुचल दिया। इस भयानक हादसे में 20 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 15 लोग घायल बताए जा रहे हैं। मारे गए लोगों में से 6 लोगों की मौत ट्रक से कुचले जाने, जबकि 14 लोगों की मौत बिजली का करंट लगने के कारण हुई है।

फोटो: HT

न्यूज एजेंसी UNI के मुताबिक, चित्तूर (शहरी) एसपी जयलक्ष्मी ने कहा कि पुलिस थाने पर मुंनगापालम गांव के करीब 100 किसान और ग्रामीण अवैध रेत खनन के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। किसान पुलिस स्टेशन के सामने अधिकारियों से बात कर रहे थे, उसी दौरान तेज रफ्तार में आ रही एक बेकाबू ट्रक ने उन्हें कुचल दिया।

Also Read:  जानिए किस तरह से सेक्स करने में महिलाओं को आता है सबसे ज्यादा मजा

इसके बाद ट्रक एक बिजली के खंभे से टकरा गया, जिसके बाद बिजली का तार प्रदर्शनकारियों पर गिर गया। घायल हुए 15 लोगों में अधिकतर बिजली का झटका लगने से झुलस गए हैं। जयलक्ष्मी ने कहा कि घायलों को तिरुपति और श्रीकालहस्ती के विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया कि घायलों में पुलिस के दो अधिकारी भी शामिल हैं।

चित्तूर जिले में येरपेडु पुलिस स्टेशन के सामने हुई इस घटना में किसानों के अलावा कई अन्य लोग भी घायल हुए हैं। यहां सैकड़ों किसान और ग्रामीण इलाके में रेत की तस्करी को बंद किए जाने की मांग लेकर प्रदर्शन कर रहे थे।

Also Read:  केरल में नोटबंदी के के विरोध में बनी 700 किलोमीटर लंबी मानव श्रृंखला

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घटना पर दुख जाहिर किया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में दुर्घटना के कारण लोगों की हुई मौत से दुखी हूं। मृतकों के परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं और घायलों के जल्द ठीक होने की प्रार्थना करता हूं।

आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू ने ट्वीट किया, “चित्तूर हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। मैंने प्रशासन को हर तरह की मदद करने के निर्देश दे दिए हैं।”

 

Also Read:  दिल्ली: केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का पीछा करने वाले DU के चारों छात्रों को मिली जमानत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here