बिहार के 25 वर्षीय सनोज राज बने KBC-11 के पहले करोड़पति, इस सवाल की वजह से 7 करोड़ जीतने से चूके

0

सोनी टीवी के सबसे चर्चित शो ‘कौन बनेगा करोड़पति’ को हमेशा की तरह इस सीजन भी खूब पसंद किया जा रहा है और शो टीआरपी की रेस में भी सबसे आगे चल रहा है। इस शो में हर बार कोई ऐसा कंटेस्टेंट आता है, जो दर्शकों पर अपनी छवि छोड़ने के साथ ही कुछ सिखा कर भी जाता है।

‘कौन बनेगा करोड़पति’ के 13वें एपिसोड में बिहार के प्रतियोगी सनोज राज हालांकि 7 करोड़ रुपये के जैकपॉट सवाल का सही जवाब नहीं दे पाए, लेकिन मेगास्टार अमिताभ बच्चन द्वारा होस्ट किए गए ‘कौन बनेगा करोड़पति’ (केबीसी) के 11वें सीजन में वह पहले करोड़पति बनकर रोमांचित हैं।

सनोज राज

आईएएस के अभ्यार्थी सनोज फिलहाल दिल्ली में रहकर यूपीएससी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं। उनकी रुचि नीति-निर्माण और क्रियान्वयन में है। वे स्वास्थ्य और पर्यावरण के संबंध में नीतियां बनाना चाहते हैं। जब सनोज से एक करोड़ रुपये का सवाल पूछा गया था, तो 25 वर्षीय प्रतिभागी को जवाब पता था।

लेकिन उन्होंने आखिरी लाइफलाइन लेना पसंद किया। जब बिग बी ने उनसे पूछा कि जवाब जानने के बावजूद आपने लाइफलाइन क्यों लिया, तो सनोज ने कहा कि क्योंकि वे इस लाइफलाइन का इस्तेमाल 7 करोड़ के सवाल में नहीं कर पाते, इसलिए इसे बरबाद करने की बजाय इस्तेमाल कर लिया।

सनोज राज जिस सवाल का जवाब देकर एक करोड़ रुपये का इनाम जीते वो सवाल ये है। भारत के किस मुख्य न्यायाधीश के पिता भारत के एक राज्य के मुख्यमंत्री रहे थे? सनोज ने सेट पर कहा कि इसका सही जवाब जस्टिस रंजन गोगोई है, इसके बाद उन्होंने अपने आखिरी लाइफलाइन ‘आस्क दि एक्सपर्ट’ का इस्तेमाल किया। यहां पर उन्होंने सही जवाब मिला और उन्होंने इस ऑप्शन पर ताला लगाया।

इसके बाद बारी थी 16वें सवाल की। हालांकि सनोज 7 करोड़ रुपये के जैकपॉट सवाल का सही जवाब नहीं दे पाए। 16वां सवाल क्रिकेट से जुड़ा हुआ था और इस प्रकार था। ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज सर डॉन ब्रैडमैन ने किस भारतीय गेंदबाज की बॉल पर एक रन बनाकर प्रथम श्रेणी का अपना सौंवा शतक पूरा किया था?

कम्प्यूटर ने चार विकल्प सनोज राज के सामने रखे. ये विकल्प थे, बका जिलानी, सी रंगचारी, गोगुमल किशन चंद और कंवर राय सिंह। सनोज इस सवाल का जवाब नहीं जानते थे, लिहाजा उन्होंने गेम से क्विट करना ही बेहतर समझा और एक करोड़ की धनराशि जीतकर ही संतोष किया। बाद में कम्प्यूटर ने इस सवाल का सही जवाब गोगुमल किशनचंद बताया।

सनोज राज ने कहा, “मैं इस जीत पर खुशी महसूस कर रहा हूं। यह मेरे जीवन का महत्वपूर्ण क्षण है और मैं कई और मील के पत्थर हासिल करने के लिए केवल आगे बढ़ने का इरादा रखता हूं। मेरा मानना है कि अपने लक्ष्यों के प्रति कड़ी मेहनत, लगन और समर्पण उन्हें प्राप्त करने की प्रक्रिया को और सुखद बना देगा।” उन्होंने कहा, “वर्तमान में मेरी यह खुशी अल्पकालिक है, क्योंकि मैं यूपीएससी परीक्षाओं पर ध्यान केंद्रित कर रहा हूं, जो अगले हफ्ते से शुरू होनेवाले हैं।”(इंपुट: आईएएनएस के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here