खादी ग्रामोद्योग के अध्यक्ष ने डायरी पर पीएम मोदी के फोटो का बचाव करते हुए कहा, ऐसा नियम नही कि गांधी की ही फोटो छपे

0

खादी और ग्रामोद्योग निगम :केवीआईसी: के डायरी और कलैंडर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर आने के बाद विवाद शुरू हो गया है और विपक्षी दलों ने इस मामले में निशाना साधा, वहीं सरकार और भाजपा ने विवाद को अनावश्यक करार देकर खारिज कर दिया।

प्रधानमंत्री कार्यालय :पीएमओ: ने कहा कि विवाद गैरजरूरी है क्योंकि केवीआईसी में ऐसा कोई नियम नहीं है कि इसके डायरी और कलैंडर में केवल गांधीजी की तस्वीर होनी चाहिए।

केवीआईसी के अध्यक्ष वी के सक्सेना ने इस कदम का बचाव करते हुए कहा कि इस तरह का कोई नियम या परिपाटी नहीं है कि इन चीजों पर केवल महात्मा गांधी की तस्वीर प्रकाशित की जा सकती है।

खादी ग्रामोद्योग

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया, मंगलयान प्रभाव।

उनके कहने का यह आशय है कि मोदी केवीआईसी के प्रोत्साहन का श्रेय लेने का प्रयास कर रहे हैं जिस तरह उन्होंने कथित तौर पर भारत के मंगलयान के मंगल ग्रह पर पहुंचने के बाद लिया था।

कंागे्रस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, खादी और गांधीजी हमारे इतिहास, स्वावलंबन और संघर्ष के प्रतीक हैं। गांधीजी की तस्वीर हटाना पवित्र को अपवित्र करने का पाप है।

कांग्रेस ब्रीफिंग में पार्टी प्रवक्ता अभिषेक सिंघवी ने कहा, गांधीजी इतने महान हैं कि उनकी जगह कोई नहीं ले सकता।

भाषा की खबर के अनुसार, मोदी की तीखी आलोचना करते हुए उन्होंने कहा कि जहां संघ की विचारधारा ने गांधीजी को मार दिया, वहीं एक पूर्व संघ प्रचारक ने केवीआईसी की डायरी और कलैंडर में उनकी जगह ले ली है।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा, चरखा के महान प्रतीक और महात्मा गांधी की जगह अब मोदी बाबू ने ले ली है। खादी :केवीआईसी: 2017 के कलैंडर और डायरी में मोदी ने महात्मा गांधी की जगह ले ली। गांधीजी राष्ट्रपिता हैं। मोदीजी क्या हैं?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here