“BCCI और कोहली को अकेला छोड़ दो”: दक्षिण अफ्रीका में टीम इंडिया के इतिहास रचने के बाद विराट कोहली के फैंस ने की सौरव गांगुली और सचिन तेंदुलकर की आलोचना

0

भारतीय क्रिकेट टीम द्वारा दक्षिण अफ्रीका में इतिहास रचने के बाद बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली और भारत के पूर्व बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर को विराट कोहली के प्रशंसकों की आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। टीम इंडिया ने विराट कोहली की कप्तानी में इतिहास रचते हुए साउथ अफ्रीका को सेंचुरियन में खेले गए पहले टेस्ट मैच में 113 रनों से मात दे दी। सेंचुरियन में साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट मैच जीतने वाली टीम इंडिया एशिया की पहली टीम बन गई।

विराट कोहली

इस एतिहासिक जीत के बाद टीम इंडिया की खूब सराहना हो रही है। सोशल मीडिया यूजर्स समेत कई पूर्व दिग्गज क्रिकेटर विराट कोहली एंड कंपनी को भारत की अब तक की सर्वश्रेष्ठ टीम बता रहे हैं। इस धमाकेदार जीत के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने टीम इंडिया को जीत की बधाई तो दी, लेकिन विराट कोहली का नाम तक नहीं लिया।

भारत की शानदार जीत पर प्रतिक्रिया देते हुए सौरव गांगुली ने ट्विटर पर लिखा, “टीम इंडिया की शानदार जीत … नतीजे से बिल्कुल भी हैरान नहीं … इस सीरीज में उसे हराना कठिन होगा। दक्षिण अफ्रीका को ऐसा करने के लिए अपनी पूरी ताकत लगानी होगी। नए साल का आनंद लें।”

सौरव गांगुली ने अपने बधाई ट्वीट में इतिहास रचने वाले भारतीय कप्तान विराट कोहली के नाम का जिक्र तक नहीं किया था। जिस कारण सौरव गांगुली का यह ट्वीट विराट कोहली के फैंस को पसंद नहीं आया और उन्होंने बीसीसीआई अध्यक्ष की आलोचना करनी शुरु कर दी।

एक यूजर ने लिखा, ‘बीसीसीआई और कोहली को अकेला छोड़ दो। आपकी राजनीति की कोई जरूरत नहीं है।” एक अन्य ने पूछा कि गांगुली ने अपने बधाई ट्वीट में कोहली का जिक्र क्यों नहीं किया। एक अन्य यूजर ने लिखा, ‘कहां है कैप्टन, यहां तो दरार पक्का दिख रही है। एक अन्य यूजर ने गांगुली पर तंज कसते हुए कहा, ‘सर, आप जयशाह को टैग करना भूल गए।’

बता दें कि, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के दिग्गज नेता और भारत के गृह मंत्री अमित शाह के बेटे जय शाह बीसीसीआई के सचिव हैं।

कोहली को वनडे कप्तान के पद से हटाने के लिए गांगुली को हाल ही में काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था। कोहली ने गांगुली के दावों का पर्दाफाश करने के लिए एक असाधारण प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया था।

टीम इंडिया की इस एतिहासिक जीत पर सचिन तेंदुलकर ने भी एक ट्वीट किया। तेंदुलकर ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘दुनिया में कहीं भी एक टेस्ट मैच में 20 विकेट लेने की क्षमता रखने वाले आक्रमण ने शानदार गेंदबाजी की। शानदार जीत के लिए भारतीय टीम को बधाई।’

लेकिन उनके ट्वीट ने भारतीय क्रिकेट फैंस को दो भागों में बांट दिया, क्योंकि वे तेंदुलकर और कोहली की महानता पर बहस करने लग गए।

दक्षिण अफ्रीका को सेंचुरियन क्रिकेट मैदान पर खेले गए 26 टेस्ट मैचों में से केवल दो में हार मिली है। कोहली के नेतृत्व वाली टीम यह उपलब्धि हासिल करने वाली एकमात्र भारतीय टीम बन गई। अगर भारत मौजूदा सीरीज जीतता है तो यह पहली बार होगा जब वह दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट सीरीज जीतेगा।

[Please join our Telegram group to stay up to date about news items published by Janta Ka Reporter]

Previous article‘दिल्ली के JNU में चलता है सेक्स स्कैंडल, जाते हैं बड़े-बड़े लोग’: योगी के मंत्री ठाकुर रघुराज सिंह का विवादित बयान
Next articleकन्नौज से समाजवादी पार्टी के MLC और इत्र कारोबारी पुष्पराज जैन के ठिकानों पर आयकर विभाग का छापा