दिग्गज पत्रकार सी राघवाचारी का 80 साल की उम्र में निधन, काफी दिनों से थे बीमार

0

दिग्गज पत्रकार सी राघवाचारी का सोमवार (28 अक्टूबर) की सुबह निधन हो गया। वह 80 वर्ष के थे और कुछ समय से बीमार चल रहे थे। राघवाचारी ने वर्ष 1972 से लगभग 30 वर्ष से भी अधिक समय तक तेलुगू दैनिक ‘विशालआंध्र’ का संपादन किया था।

सी राघवाचारी
फाइल फोटो: सी राघवाचारी

समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, वारंगल जिले (वर्तमान में तेलंगाना राज्य में) के निवासी राघवाचारी ने विद्यार्थी के रुप में अपना करियर भाकपा के एआईएसएफ के छात्रनेता के रुप में शुरु किया और इसके राज्य अध्यक्ष के रुप में कार्य किया। वह एक श्रेष्ठ वक्ता और लेखक थे। बाद में वह भाकपा द्वारा संचालित अखबार ‘विशालआंध्र’ में पत्रकार के रुप में जुड़ गए। बहुत ही कम समय में उन्होंने इसके संपादक का पदभार संभाल लिया और 32 वर्षों तक पदासीन रहे।

विनीत और नम्र व्यक्तित्व वाले राघवाचारी विभिन्न क्षेत्रों में अपने विस्तृत ज्ञान और अपने विशेष संपादकीय के लिए जाने जाते थे। वह कुछ समय से उम्रसंबंधी समस्यायों से ग्रस्त थे और पिछले हफ्ते से वह हैदराबाद के एक निजी अस्पताल में भर्ती थे। पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, भाकपा के एक सूत्र ने बताया कि अस्पताल में सोमवार तड़के उनका निधन हो गया। उनका पार्थिव शरीर विजयवाड़ा ले जाया गया। वह पिछले चालीस वर्षों से विजयवाड़ा में रह रहे थे।

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगनमोहन रेड्डी, टीडीपी अध्यक्ष एन चंद्रबाबू नायडु, जनसेना अध्यक्ष पवन कल्याण, प्रदेश के सूचना और जनसंपर्क मंत्री पर्णी वेंकटरमैया और अनेक अन्य राजनेताओं ने राघवाचारी के निधन पर शोक व्यक्त किया। मुख्यमंत्री ने शोक संदेश में लिखा, “राघवाचारी मूल्य आधारित पत्रकारिता में विश्वास रखते थे और उनका लेखन इसका प्रत्यक्ष प्रमाण था। वह युवा पीढ़ी के लिए प्रेरणास्रोत थे।” नायडु ने कहा कि राघवाचारी एक ईमानदारी से अपना काम किया और वे एक अनुकरणीय पत्रकार थे।

Previous articleDemand grows for Arnab Goswami to apologise after Delhi court acquits man that his TV channel dubbed as ‘pervert’ four years ago
Next articleशाहरुख खान ने माथे पर तिलक लगाकर दिवाली की दी बधाई, यूजर्स ने किया ट्रोल तो शबाना आजमी ने दिया करारा जवाब