योगी सरकार द्वारा किसानों के किए गए कर्ज माफी पर बोले उर्जित पटेल- डगमगा सकता है ग्राहकों का ईमान

0

जहां एक तरफ यूपी में योगी सरकार किसानों का कर्ज माफ करके नंबर बटोर रही है। वहीं दूसरी और किसानों की लोन माफी से आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल संतुष्‍ट नहीं है। उर्जित पटेल ने कहा है कि कर्ज माफी से ‘नैतिक संकट पैदा’ होता है। उन्होंने कहा है कि इससे क्रेडिट कल्चर को नुकसान होता है।

FILE PHOTO

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, उर्जित पटेल ने मोनेटरी पॉलिसी रिव्यू के बाद गुरुवार को कहा कि मुझे लगता है कि इससे (लोन वेबर स्कीम्स) ईमानदार क्रेडिट कल्चर कमजोर होता है। इससे क्रेडिट सिस्टम पर भी असर पड़ता है। भविष्य में कर्ज लेने वालों द्वारा इसके भुगतान पर भी असर पड़ता है।

साथ ही उन्होंने कहा कि, कर्ज माफी से टैक्स देने वाले लोगों का पैसा भी कर्ज लेने वालों के पास चला जाता है। उन्‍होंने उत्‍तर प्रदेश में लोन माफी पर टिप्‍पणी करते हुए कहा कि ऐसा करने से सरकार का घाटा बढ़ेगा जोकि अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍तर पर तुलना करने पर कही ज्‍यादा है और इससे महंगाई भी बढ़ेगी।

उर्जित पटेल के इस बयान को यूपी सरकार के 86 लाख किसानों की कर्ज माफी से जोड़कर देखा जा रहा है। बता दें कि, उत्‍तर प्रदेश में छोटे और मझोले किसानों का 36,359 करोड रुपए का लोन माफ कर दिया गया है। आपको बता दें कि अब महाराष्ट्र सरकार भी अब किसानों की कर्ज माफी पर विचार कर रही है।

Previous article18 lakh cases where income & account profiles don’t match: FM
Next article287 child abuse complaints reported on e-box