योगी राज में नशे में धुत सिपाही ने बनाया कानून का मजाक, शराब लेकर कहा- ‘सीएम इज नथिंग’

0

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और डीजीपी सुलखान सिंह के हिदायत के बाद भी यूपी के पुलिसकर्मियों पर कोई असर नही पड़ रहा है। क्योंकि, पुलिस के कुछ जवान खुद ही कानून की धज्जियां उड़ाते नजर आ रहे हैं। हमेशा सुर्खियों में रहने वाली यूपी पुलिस एक बार फिर से सुर्खियों में आ गई है।

फोटो- hindi oneindia

बता दें कि, प्रदेश के डीजीपी सुलखान सिंह ने पुलिसकर्मियों को शख्त हिदायत दी है कि वह ड्यूटी के वक्त शराब का सेवन नहीं करेंगे लेकिन उसके बाद भी राज्य में शराब की शौकिन पुलिस कानून और खाकी की इज्जत दांव पर रखकर खुलेआम शराब पीते नजर आए। मीडिया रिपोर्ट के मुताबकि मामला इटावा जिले के सिविल लाइन इलाके का है।

जहां दो पुलिसकर्मी नुमाइश चौराहे के पास खुलेआम शराब पीते हुए नजर आ रहे हैं। दोनों पुलिसकर्मी शराब के नशे में इतने धुत थे कि उनकी जुबान लड़खड़ाती नजर आ रही है। वहीं, जब उनसे नाम और थाने का पता पूछा तो एक पुलिस कर्मी ने अपना नाम विनोद यादव बताया और वह फ्रेंड्स कॉलोनी थाने में तैनात है।

वहीं, जब उनसे खुलेआम शराब पीने के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि खुलेआम शराब पीना बुरी बात नहीं है। सड़क किनारे ठेके इसीलिए खुलवाये हुए है। आगे उन्होंने कहा कि, शराबियों से सवाल न करों इसे रोकना है तो शराब की बंदी कर दो। साथ ही इनका ये भी कहना था कि मैं 10 लाख रुपया दूंगा उत्तर प्रदेश की दारु बंद करा दो।

ख़बरों के मुताबिक, नशे में धुत इन सिपाहियों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भी नहीं छोड़ा। दोनों ने कहा कि ‘सीएम इज नथिंग’ वो बिल्कुल अच्छे नहीं है। वो पुलिस वालों की सैलरी 6-6 महीने बाद देते हैं। किसानों की बात नहीं सुनते। मैं किसी मुख्यमंत्री और योगी को नहीं जानता।

बता दें कि, पुलिसकर्मियों का यूपी के सड़क पर खुलेआम शराब पीने का यह कोई पहला मामला नहीं है, इससे पहले भी कई बार ऐसे मामले सामने आ चुके है। जिससे यूपी पुलिस को शर्मशार होना पड़ा है, मार्च महिने में इटावा के विठोली थाना इलाके में ड्यूटी पर तैनात पांच पुलिसकर्मी सरेआम शराब पीते हुए कैमरे में कैद हो गए।

ये सभी पुलिसकर्मी खुलेआम पुलिस की गाड़ी में बैठकर ऑन ड्यूटी बीयर पी रहे थे। वीडियो वायरल होने के बाद इन सभी आरोपी पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर, जांच के आदेश दिए गए थे।

Previous articleराज्यसभा में सहारनपुर हिंसा पर बवाल, बोलने न देने पर नाराज मायावती ने दी इस्तीफे की धमकी
Next articleAmid Oppn protests, angry Mayawati says she’ll quit Rajya Sabha