केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिवप्रताप शुक्‍ला के स्काट में तैनात दारोगा ने की खुदकुशी

0

उत्तर प्रदेश के फरुखाबाद में केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री शिवप्रताप शुक्ला की सुरक्षा में तैनात दारोगा ने अपनी सर्विस रिवाल्वर से खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। दरोगा तारबाबू तरुण के आत्महत्या करने की सूचना से पुलिस महकमे में सनसनी फैल गई। पुलिस ने शव को लोहिया अस्पताल भेज जांच शुरू कर दी है।

प्रतीकात्मक तस्वीर

समाचार एजेंसी IANS के मुताबिक, मूलत: जनपद फिरोजाबाद की कोतवाली टूंडला के गांव नगला सोना निवासी दारोगा तारबाबू तरुण दो दिन पहले जनपद कानपुर नगर से तबादले पर यहां आए थे। उन्हें आज आवास विकास में ग्रामीण बैंक की एक शाखा का शुभारंभ करने आए शुक्ला के पीएसओ ड्यूटी पर भेजा गया था। उन्हे काफिले को स्कार्ट करना था।

दारोगा तार बाबू को जिप्सी के साथ तैनात थे। उनके साथ हेड कांस्टेबल हरिशंकर, सिपाही दीप सिंह व कौशल एवं जीप चालक रामवीर सिंह भी थे। उनकी जिप्सी जनपद शहजहांपुर के हुल्लापुर चौराहे के निकट पंक्च र की दुकान के सामने खड़ी थी, जहां वह मंत्री शिव प्रताप सिंह के काफिले का इंतजार कर रहे थे।

रिपोर्ट के मुताबिक, दारोगा मोबाइल पर बात करते हुए जिप्सी से निकल और दुकान के भीतर कुर्सी पर बैठ गए। फिर बातचीत करते हुए अचानक उन्होंने अपनी सर्विस रिवाल्वर निकाली और सिर में तीन गोलियां मार ली। इसके बाद साथी पुलिस कर्मचारी उन्हें लेकर लोहिया अस्पताल आए। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

दरोगा के गोली मारने की सूचना पर एसपी संतोष मिश्रा, एएसपी त्रिभुवन सिंह, सीओ सिटी रामलखन सरोज आदि अधिकारी अस्पताल पहुंचे। एसपी संतोष कुमार मिश्र ने कहा कि तारबाबू की जिन मोबाइल नंबरों बात हुई, उन्हें ट्रेस किया गया है। शुरूआती जांच में पारिवारिक कलह सामने आ रही है। मामले की विस्तृत जांच कराई जा रही है।

Previous articleCine And TV Artists' Association apologises to Tanushree Dutta, admits lapses 10 years ago
Next articleFarmers call off protest after being allowed to enter Delhi at midnight