उन्नाव रेप पीड़िता की मौत मामले में SHO सहित सात पुलिसकर्मी निलंबित, लापरवाही बरतने का आरोप

0

उत्तर प्रदेश सरकार ने उन्नाव जिले में बलात्कार पीड़िता को जलाकर मार डालने के मामले में संबंधित थानाध्यक्ष समेत सात पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है।

उन्नाव

गृह विभाग के प्रमुख सचिव अवनीश अवस्थी ने बताया कि उन्नाव के बिहार थाना अध्यक्ष अजय कुमार त्रिपाठी और छह अन्य पुलिसकर्मियों को उन्नाव मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में रविवार को निलंबित कर दिया गया। यह कार्रवाई 23 वर्षीय पीड़िता का रविवार को उसके गृह गांव में कड़ी सुरक्षा के बीच अंतिम संस्कार के कुछ घंटे बाद आया है।

बता दें कि, आग के हवाले की गई रेप पीड़िता के परिवार ने लखनऊ मंडलायुक्त और अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की ओर से आश्वासन मिलने के बाद पीड़िता का रविवार को अंतिम संस्कार किया। पीड़िता को उसके परिवार के खेतों में दफनाया गया जहां उसके पूर्वजों की भी कब्रें हैं।

उल्लेखनीय है कि, पीड़िता के साथ हुई घटना के मामले में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने स्थानीय पुलिस की भूमिका पर सवाल उठाते हुए सरकार को घेरा था। अखिलेश और प्रियंका ने कहा था कि स्थानीय पुलिस ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया और शिकायत के चार महीने बाद तक मुकदमा दर्ज नहीं किया। बाद में अदालत के आदेश पर प्राथमिकी पंजीकृत की गई।

उन्नाव में बिहार थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली युवती को पांच लोगों ने गत गुरुवार को तड़के चार बजे आग के हवाले कर दिया था। करीब 90 प्रतिशत तक झुलस चुकी उस लड़की ने शुक्रवार देर रात दिल्ली के एक अस्पताल में दम तोड़ दिया था। (इंपुट: भाषा के साथ)

Previous articleLIVE: Bill to decide India’s future as secular country tabled in Lok Sabha today
Next articleमहंगाई की मार: पेट्रोल-डीजल की कीमतों में फिर लगी आग, दिल्ली में 75 रुपये लीटर हुआ पेट्रोल, डीजल 66 के पार पहुंचा