“वैक्सीन की नहीं, आपमें परिपक्वता की कमी है”: राहुल गांधी के ट्वीट पर बोले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया

0

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए रविवार (1 अगस्त) को एक ट्वीट किया। उन्होंने कोरोना टीकों की अनुपलब्धता पर सवाल उठाते हुए कहा था कि जुलाई का महीना चला गया, लेकिन वैक्सीन की कमी नहीं गई। अब राहुल गांधी के ट्वीट पर देश के स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने भी पलटवार किया है।

राहुल गांधी

दरअसल, राहुल गांधी ने ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट किया था। इस वीडियो में कोरोना टीकाकरण की नाकामी को दर्शाती कई खबरों के स्क्रीनशॉट संलग्न किए थे और केंद्र सरकार पर सवाल उठाया था। इसके साथ उन्होंने लिखा था, ‘जुलाई चला गया है, वैक्सीन की कमी नहीं गई है।’ इसके साथ उन्होंने व्हेयर आर वैक्सीन्स (टीके कहां हैं) हैशटैग का इस्तेमाल किया था। राहुल गांधी केंद्र की टीकाकरण नीति पर सवाल उठाते रहे हैं।

राहुल गांधी के ट्वीट पर स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने निशाना साधते हुए कहा कि आप वैक्सीनेशन को लेकर सिर्फ राजनीति कर रहे हो, आपने ना तो हमारे वैज्ञानिकों के लिए एक शब्द कहा है और ना ही लोगों से वैक्सीन लगवाने की अपील की है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि देश में वैक्सीन की नहीं बल्कि आपके अंदर परिपक्वता की कमी है।

मंडाविया ने अपने ट्वीट में कहा, “भारत में जुलाई महीने में 13 करोड़ से अधिक टीके लगाए गए हैं। इस महीने इसमें और तेजी आने वाली है। इस उपलब्धि के लिए हमें अपने स्वास्थ्यकर्मियों पर गर्व है। अब तो उन पर और देश पर आपको भी गर्व होना चाहिए।”

उन्होंने अपने ट्वीट में आगे कहा, “सुना है, जुलाई में जिन 13 करोड़ लोगों को टीके लगाए गए, उनमें से आप भी एक हैं। लेकिन आपने हमारे वैज्ञानिकों के लिए एक शब्द नहीं बोला, जनता से वैक्सीन लगाने की अपील नहीं की। मतलब आप वैक्सीनेशन के नाम पर तुच्छ राजनीति कर रहे हैं। दरअसल वैक्सीन की नहीं, आपमें परिपक्वता की कमी है।”

बता दें कि, कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कोरोना रोधी टीके की पहली खुराक ले ली है। समाचार एजेंसी पीटीआई (भाषा) की रिपोर्ट के मुताबिक, पार्टी से जुड़े सूत्रों ने बताया कि राहुल गांधी ने बुधवार को टीके पहली खुराक ली। राहुल गांधी ने गत 20 अप्रैल को ट्वीट कर खुद जानकारी दी थी कि वह कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए हैं।

Previous articleउन्नाव दुष्कर्म पीड़िता ने निजी सुरक्षा अधिकारियों पर उत्पीड़न का लगाया आरोप, अदालत पहुंची
Next articlePV Sindhu wins bronze medal for India, beats BJ He of China