नवरात्रि के दौरान मांस की बिक्री पर प्रतिबंध लगाने के ऐलान पर TMC सांसद महुआ मोइत्रा ने कहा- संविधान मुझे मीट खाने की अनुमति देता है

0

दक्षिण दिल्ली के मेयर मुकेश सूर्यन की ओर से नवरात्रि के हिंदू त्योहार के दौरान नौ दिनों के लिए मांस की बिक्री पर प्रतिबंध के फैसले को सख्ती के साथ लागू करने के बयान के बाद तृणमूल कांग्रेस की सांसद महुआ मोइत्रा ने इस पर अपनी कड़ी प्रतिक्रिया दी है।

महुआ मोइत्रा
फाइल फोटो

महुआ मोइत्रा ने बुधवार को अपने ट्वीट में लिखा, “मैं दक्षिण दिल्ली में रहती हूं। संविधान मुझे अनुमति देता है कि मैं जब चाहूं मीट खा सकती हूं और दुकानदार को अपना व्यापार चलाने की आजादी देता है। फुल स्टॉप।”

गौरतलब है कि, दक्षिण दिल्ली के मेयर मुकेश सूर्यन ने कहा था कि नवरात्रि के दौरान मांस की दुकानों पर प्रतिबंध को सख्ती के साथ लागू किया जाएगा। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि यह कदम शिकायतों के बाद लिया गया था और इससे किसी की भी व्यक्तिगत स्वतंत्रता का उल्लंघन नहीं होता है।

भाजपा नेता ने कहा था, “नवरात्रि के दौरान, दिल्ली में 99% परिवार लहसुन और प्याज का उपयोग नहीं करते हैं, इसलिए हमने फैसला किया है कि दक्षिण एमसीडी में कोई भी मांस की दुकान नहीं खुलेगी। फैसला कल से लागू होगा। उल्लंघन करने वालों पर जुर्माना लगाया जाएगा।”

सूर्यन ने आगे कहा, “जनता की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए 2 अप्रैल से 11 अप्रैल तक नवरात्रि उत्सव के 9 दिनों की अवधि के दौरान मांस की दुकानों को बंद करने के लिए कार्रवाई करने के लिए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश जारी किए जा सकते हैं।”

वह अपने इस घोषणा के बाद सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए हैं। हिंदुओं के एक वर्ग ने भी इसपर अपनी नराजगी जताते हुए कड़ी प्रतिक्रिया दी। लोगों ने विवादास्पद कदम के लिए भाजपा महापौर की आलोचना करनी शुरु कर दी।

[Please join our Telegram group to stay up to date about news items published by Janta Ka Reporter]

Previous articleराणा अय्यूब के बाद अब आकार पटेल को बेंगलुरु एयरपोर्ट पर भारत छोड़ने से रोका गया
Next articleISC and ICSE Semester 2 Exams 2022: CISCE ने ISC और ICSE सेमेस्टर 2 की परीक्षा के लिए cisce.org पर जारी किए महत्वपूर्ण निर्देश