असम में चुनाव से पहले BJP को झटका, सहयोगी पार्टी BPF ने छोड़ा साथ; कांग्रेस नेतृत्व वाले गठबंधन में शामिल

0

असम में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजाप) को बड़ा झटका लगा हैं, क्योंकि उत्तर-पूर्वी राज्यों में उसके प्रमुख सहयोगियों में से एक बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट (BPF) ने भगवा पार्टी से अलग होने का फैसला किया हैं और कांग्रेस के नेतृत्व वाले गठबंधन में शामिल हो गया है।

असम

बीपीएफ के अध्यक्ष हागरामा मोहिलारी ने फेसबुक पर एक बयान में कहा, “शांति, एकता और विकास के लिए काम करना और असम में भ्रष्टाचार से मुक्त एक स्थिर सरकार लाने के लिए बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट (BPF) ने MAHAJATH के साथ हाथ मिलाने का फैसला किया है। BPF अब भाजपा के साथ दोस्ती या गठबंधन नहीं बनाए रखेगा। आगामी असम विधानसभा चुनाव में बीपीएफ महाजथ के साथ हाथ मिलाकर काम करेगा।”

भाजपा ने 2016 के विधानसभा चुनावों में बीपीएफ और असोम गण परिषद की मदद से राज्य में अपनी पहली सरकार बनाने के लिए पूर्ण बहुमत हासिल किया था। भाजपा ने 126 सीटों वाली विधानसभा में 60 विधायक जीते थे, वहीं एजीपी के उम्मीदवार 13 सीटों पर विजयी हुए थे और 11 सीटें बीपीएफ ने जीती थीं।

राज्य में सर्बानंद सोनोवाल की अगुवाई वाली गठबंधन सरकार में तीन मंत्रियों वाली बीपीएफ दिसंबर में बीटीसी चुनावों में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी, जिसने 40 सदस्यीय निकाय में 17 सीटें जीतीं।

बता दें कि, असम में विधानसभा चुनाव 27 मार्च से शुरू होने वाले तीन चरणों में होंगे। 126 सदस्यीय असम विधानसभा के लिए होने वाले चुनाव के पहले चरण का मतदान 27 मार्च को और अंतिम (तीसरा) चरण 6 अप्रैल को होगा। सभी चरणों के वोटों की गिनती 2 मई को होगी. वर्तमान असम विधानसभा का कार्यकाल 31 मई को समाप्त होने वाला हैं।

Previous article“मेरा भाई इधर ही है मेरे साथ”: बाबिल ने शेयर किया पिता इरफान खान के साथ चैट का स्क्रीनशॉट, इमोशनल पोस्ट हुआ वायरल
Next articleयूजर ने सोनू सूद से ‘मां की कसम खाकर’ मांगा स्मार्टफोन, अभिनेता के जवाब ने सोशल मीडिया पर जीता लोगों का दिल