VIDEO: जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने आतंकियों से कहा- उनको मारो जिन्होंने कश्मीर को लूटा है, तो उमर अब्दुल्ला बोले- किसी भी नेता की हत्या हुई तो गवर्नर होंगे जिम्मेदार

0

जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक अपने एक बयान की वजह से फिर सुर्खियों में आ रहे हैं। सत्यपाल मलिक ने रविवार को आतंकवादियों से कहा कि वे सुरक्षाकर्मियों समेत बेगुनाहों की हत्या करना बंद करें और इसके बजाय उन लोगों को निशाना बनायें ‘जिन्होंने वर्षों तक कश्मीर की सम्पदा को लूटा’ है। राज्यपाल के इस बयान की मुख्यधारा के नेताओं ने आलोचना की है।

सत्यपाल मलिक
फाइल फोटो

लद्दाख क्षेत्र के करगिल में ‘ख्री सुल्तान चो स्पोर्ट्स स्टेडियम करगिल’ में ‘करगिल लद्दाख पर्यटन महोत्सव-2019’ के उद्घाटन के दौरान राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा, ‘‘ये लड़के जिन्होंने हथियार उठाया है वे अपने ही लोगों की हत्या कर रहे हैं, वे पीएसओ (निजी सुरक्षा अधिकारियों) और एसपीओ (विशेष पुलिस अधिकारियों) की हत्या कर रहे हैं। इनकी हत्या क्यों कर रहे हो? उनकी हत्या करो जिन्होंने कश्मीर की सम्पदा लूटी है। क्या तुमने इनमें से किसी मारा है?’’

हालांकि राज्यपाल ने फौरन यह भी कहा कि हथियार उठाना कभी हल नहीं हो सकता और श्रीलंका में लिट्टे का उदाहरण दिया। उन्होंने कहा, ‘‘भारत सरकार कभी हथियार के आगे घुटने नहीं टेकेगी।’’ उन्होंने आतंकवादियों से हिंसा का रास्ता नहीं अपनाने को कहा। उन्होंने मुख्यधारा के नेताओं पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए कहा कि ये नेता दिल्ली में अलग भाषा बोलते हैं और कश्मीर में कुछ और बोलते हैं।

राज्यपाल की इस टिप्पणी पर राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री एवं जम्मू कश्मीर नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि मलिक को दिल्ली में अपनी प्रतिष्ठा की पड़ताल करनी चाहिए। अब्दुल्ला ने ट्वीट किया, ‘‘यह शख्स जो जाहिर तौर पर एक जिम्मेदार संवैधानिक पद पर काबिज है और वह आतंकवादियों को भ्रष्ट समझे जाने वाले नेताओं की हत्या के लिये कह रहा है।’’

बाद में, अब्दुल्ला ने कहा, ‘‘इस ट्वीट को सहेज लें- आज के बाद जम्मू-कश्मीर में मारे गये किसी भी मुख्यधारा के नेता या सेवारत/सेवानिवृत्त नौकरशाह की अगर हत्या होती है तो समझा जायेगा कि यह जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक के आदेशों पर की गयी है।”

राज्य कांग्रेस प्रमुख जीए मीर ने पूछा, ‘‘क्या वह जंगल राज को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं?’’ उन्होंने कहा कि मलिक जिस संवैधानिक पद पर हैं, उनका यह बयान उसकी गरिमा के खिलाफ है। (इनपुट: भाषा के साथ)

Previous articleRevealed! Micellar water is what you need to have IAS topper Tina Dabi Khan’s glowing skin revealed
Next articleशशि थरूर ने मिर्जा गालिब के नाम से शेयर की गलत शायरी, जावेद अख्तर ने सुधारी गलती तो कांग्रेस नेता ने मांगी माफी