हड़ताल पर गए सफदरजंग अस्पताल के डॉक्टर्स, मरीजों को हो रही है परेशानी

0

देश की रजधानी दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में बुधवार को महिला डॉक्टर के साथ मारपीट के बाद सफदरजंग अस्पताल के रेजिडेंट्स डॉक्टरों ने हड़ताल कर दी है। इस हड़ताल के चलते मरीजों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, उन्हें उचित इलाज नहीं मिल पा रहा है।

फोटो- India Today

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सफदरजंग अस्पताल के डॉक्टर्स को सपोर्ट करने के लिए राम मनोहर लोहिया और लेडी हार्डिंग अस्पताल के रेजिडेंट डॉक्टर्स ने भी हड़ताल कर दी है। ख़बरों के मुताबिक, 23 अगस्त शाम 4 बजे से डॉक्टरों की हड़ताल जारी है, इससे इमरजेंसी सेवा भी ठप हो गई है।

रेजीडेंट डॉक्टर एसोसिएशन का कहना है कि इस तरह की घटनाएं दुर्भाग्यपूर्ण हैं, इसका प्रमुख कारण यह है कि अस्पताल में सुरक्षित माहौल का अभाव है। डॉक्टर अपनी सुरक्षा को खतरे में डालते हुए काम नहीं कर सकते हैं, डॉक्टरों को सुरक्षा दी जाए

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सफदरजंग अस्पताल की गायनी विभाग की पीजी सेकंड ईयर की डॉक्टर रुचि ने बताया कि वह गुरुवार की दोपहर ओपीडी में मरीजों का इलाज कर रही थीं। आरोप है कि उसी समय एक महिला मरीज ने उनके साथ बिना वजह हाथापाई की।

इस घटना के बाद आरोपी मरीज वहां से भाग गईं, लेकिन डॉक्टरों ने काम बंद कर दिया। डॉक्टरों ने पहले अपनी शिकायत अस्पताल के मेडिकल सुपरिंटेंडेंट डॉक्टर ए. के. राय को दी। डॉक्टर राय ने बताया कि उन्होंने इस मामले में पुलिस से शिकायत की है। पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज की है।

डॉक्टर राय ने बताया कि पुलिस इस मामले में जांच कर रही है, लेकिन इसके बाद भी डॉक्टर काम पर नहीं लौटे हैं। उन्होंने कहा कि स्ट्राइक जारी है और सभी डिपार्टमेंट के डॉक्टर इसमें शामिल हैं।

मरीजों की परेशानियां बढ़ी

बता दें कि, इन अस्पतालों में दूर-दूर से इलाज के लिए लोग आते हैं। ऐसे में अगर डॉक्टरों की स्ट्राइक जारी रही तो भारी संख्या में लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। मरीज के साथ सफदरजंग अस्पताल में आई एक महिला रामवती का कहना है कि मैं अपनी बहू को अस्पताल डिलिवरी के लिए लेकर आई थी लेकिन यहां हड़ताल चल रही है, अब हम कहां जाए।

Previous articleBRD college Gorakhpur: UP government transfers Additional Chief Secretary Anita Bhatnagar
Next articleयूपी: चित्रकूट के जंगल में डाकुओं और पुलिस के बीच मुठभेड़ जारी, सब इंस्पेक्टर जय प्रकाश सिंह शहीद