पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती कीमतों पर वसुंधरा के मंत्री का बेतुका बयान, बोले- जब दाम बढ़ रहे हैं, तो जनता को खपत कम कर देनी चहिए

0

पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस की अगुआई में 21 विपक्षी दलों ने भारत बंद का ऐलान किया है। कांग्रेस की ओर से बुलाए गए ‘भारत बंद’ के दौरान कई विपक्षी पार्टियां एकजुट होकर देश में पेट्रोल-डीजल और गैस की कीमतों में बढ़ोत्तरी के विरोध में प्रदर्शन कर रही हैं।

फाइल फोटो

इस बीच, पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर राजस्थान सरकार के मंत्री ने आम जनता के जले पर नमक छिड़कने जैसा बयान दिया हैं। वसुंधरा सरकार में मंत्री राजकुमार रिणवा का कहना है कि कच्चे तेल के दाम बढ़ गए हैं तो जनता को खर्चे कम कर देने चाहिए।

एबीपी न्यूज़ के मुताबिक, वसुंधरा सरकार में मंत्री राजकुमार रिणवा ने कहा, ”जब कच्चे तेल के दाम बढ़ रहे हैं, तो जनता खर्च कम क्यों नहीं करती है? जनता को खपत कम कर देनी चहिए। अन्य देशों में जब किसी चीज के भाव बढ़ते है, तो वहां अपने आप खपत कम हो जाती है। अपने यहां अलग स्थिति है।” वसुंधरा के मंत्री का यह बयान पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों से परेशान जनता के लिए जले में नमक छिड़कने जैसा है।

बता दें कि कांग्रेस ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोतरी के खिलाफ आज ‘भारत बंद’ बुलाया है। पार्टी ने सभी सामाजिक संगठनों और सामाजिक कार्यकर्ताओं से ‘भारत बंद’ का समर्थन करने का आह्वान किया है। कांग्रेस का कहना है कि उसकी ओर से बुलाया गया ‘भारत बंद’ सुबह 9 बजे से दोपहर 3 बजे तक रहेगा, ताकि आम जनता को दिक्कत नहीं हो।

बता दें कि नरेंद्र मोदी सरकार को घेरने के लिए कांग्रेस की तरफ से बुलाए गए ‘भारत बंद’ के ऐलान के बाद भी आज  पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी देखी गई। सोमवार(10 सितंबर) को दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल पर 23 पैसे और डीजल पर 22 पैसे बढ़ाए गए। इसी के साथ राजधानी में पेट्रोल की कीमत 80.73 रुपये और डीजल की कीमत 72.83 रुपये प्रति लीटर हो गई है।

 

Previous articleसोहराबुद्दीन ‘फर्जी’ एनकाउंटर मामला: बॉम्बे हाईकोर्ट ने डीजी वंजारा समेत अन्य पुलिसकर्मियों की रिहाई को चुनौती देने वाली याचिका की खारिज
Next articleतेल में आग LIVE: पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस समेत विपक्ष का ‘भारत बंद’, जानें हर अपडेट