राहुल गांधी का केंद्र पर बड़ा हमला, कहा- भ्रष्टों की मदद के लिए RTI कानून को कमजोर कर रही है मोदी सरकार

0

सूचना का अधिकार (आरटीआई) कानून में संशोधन को राज्यसभा की मंजूरी मिलने के दो दिन बाद निवर्तमान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की अगुवाई वाली राजग सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि भ्रष्टाचारियों की मदद करने के लिए सरकार कानून को कमजोर बना रही है।

(Reuters)

आटीआई कानून में संशोधन से जुड़ा विधेयक पिछले दिनों संसद से पारित होने की पृष्ठभूमि में राहुल गांधी ने शनिवार को भाजपा सरकार निशाना साधते हुए ट्वीट कर कहा, ‘सरकार आरटीआई को कमजोर कर रही है ताकि भ्रष्टाचार को मदद दी जाए।’ गांधी ने यह भी कहा, ‘अजीब बात है कि आमतौर पर शोर मचाने वाली भ्रष्टाचार विरोधी भीड़ अचानक से गायब हो गई है।’

गौरतलब है कि राहुल गांधी का यह बयान आने से दो दिन पहले गुरुवार को राज्यसभा ने आरटीआई विधेयक में संशोधन को मंजूरी प्रदान की। हालांकि इस दौरान विपक्षी की ओर से इसका पुरजोर विरोध किया गया। आरटीआई विधेयक में संशोधन को लोकसभा ने सोमवार को ही मंजूरी दे दी थी। विपक्ष और कई आरटीआई कार्यकर्ताओं का आरोप है कि सरकार इस संशोधन के जरिए आरटीआई कानून को कमजोर कर रही है।

कांग्रेस संसदीय दल की चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने भी सरकार की निंदा है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार आरटीआई को एक कंटक के रूप में देखती है और केंद्रीय सूचना आयोग के दर्जे को नष्ट करना चाहती है। दूसरी तरफ, सरकार का कहना है कि वह पारदर्शिता, जन भागीदारी और सरलीकरण के लिए प्रतिबद्ध है तथा यह संशोधन भी इसी क्रम में लाया गया है।

Previous articleउत्तर प्रदेश: सोनभद्र हत्याकांड के पीड़ित परिवारों को कांग्रेस ने दिए सहायता राशि के चेक
Next articleशर्मनाक: इंडोनेशिया के होटल में सामान चुराता पकड़ा गया भारतीय परिवार, वीडियो वायरल