मंदसौर जा रहे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को हिरासत में लिया गया

0
Follow us on Google News

मध्य प्रदेश में फसलों के वाजिब दाम सहित अन्य मांगों को लेकर चल रहा किसानों का आंदोलन बुधवार (7 जून) को और हिंसक हो गया। मंदसौर में मंगलवार(6 जून) को फायरिंग में 5 किसानों की मौत से गुस्साए किसानों ने 100 से ज्यादा वाहनों में तोड़फोड़ और आगजनी की। वहीं, पुलिस गोलीबारी और किसानों के मुद्दों पर केंद्र ने राज्य सरकार से पूरी घटना की जानकारी मांगी है।

वहीं, इस बीच मंदसौर जा रहे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को गुरुवार(8 जून) को उनके समर्थकों सहित मध्यप्रदेश में प्रवेश करने के दौरान हिरासत में ले लिया गया। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि सैंकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ताओं तथा राजस्थान कांग्रेस प्रमुख सचिन पायलट और मध्यप्रदेश के विधायक जयवर्धन सिंह जैसे वरिष्ठ नेताओं को भी हिरासत में लिया गया है। इन्हें एक सीमेंट कंपनी के गेस्टहाउस ले जाया गया है।

इस दौरान राहुल ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश के अमीर लोगों के कर्ज माफ कर सकते हैं, लेकिन किसानों के लिए ऐसा नहीं कर सकते। राहुल के साथ पार्टी के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह और कमलनाथ भी थे। राहुल ने राज्य में प्रवेश करने से उन्हें रोकने के लिए किए गए व्यापक पुलिस प्रबंधों को धता बताया।

जब राहुल एवं उनके साथ मौजूद लोग नीमच के नया गांव से मंदसौर की ओर बढ़े तो ‘‘जय जवान जय किसान’’ और ‘राहुल गांधी जिंदाबाद’ के नारे सुने जा सकते थे। जब राहुल आगे बढ़ रहे थे तो पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की। इस दौरान नाटकीय स्थिति पैदा हो गई। पुलिस ने जब उन्हें पीछे करने की कोशिश की तो वह एक खेत में घुस गए और उन्हें हिरासत में लिया गया।

 उधर मंदसौर हिंसा की आग अब कई अन्य जिलों में फैलती जा रही है। मंदसौर और दूसरे कई जिलों में किसानों का आंदोलन उग्र होने की वजह से हिंसक घटनाएं बढ़ रही हैं। बुधवार को गुस्साएं प्रदर्शनकारियों ने मंदसौर, देवास, नीमच, धार और इंदौर सहित कई हिस्सों में लूटपाट, आगजनी, तोड़फोड़ और पथराव किया। साथ गुरुवार को प्रदर्शनकारियों ने मंदसौर में एक टोल प्लाजा में तोड़फोड़ की और वहां रखे 8-10 रुपये लूट लिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here