मध्‍य प्रदेश: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने आदिवासी कन्याओं को दिए गिफ्ट और रुपये, CM के लौटते ही छीन ले गए अधिकारी

0

मध्य प्रदेश में पिछले कुछ दिनों पहले शिवपुरी के सेसई गांव में सहरिया आदिवासी सम्मेलन में राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आदिवासी लड़कियों को देवी मानते हुए उनके पैर धोए थे। इतना ही नहीं इसके बाद सीएम ने उन्हें गिफ्ट्स और कुछ पैसे दिए थे।

लेकिन जिले के आदिवासी बहुल गांव के निवासियों ने आरोप लगाया है कि कार्यक्रम से मुख्यमंत्री के वापस जाते ही कुछ अधिकारियों ने ग्रामीणों से सारे तोहफे ले लिए। वहीं, अधिकारियों का कहना है कि गांव वालों को कोई गलतफहमी हुई है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 9 दिसंबर को शिवपुरी के सेसई गांव में सहरिया आदिवासी सम्मेलन में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आदिवासी लड़कियों के पैर धोए थे। इसके बाद सीएम ने उन्हें गिफ्ट्स और कुछ पैसे दिए थे।

लेकिन जिले के आदिवासी बहुल गांव के निवासियों ने आरोप लगाया है कि कार्यक्रम से मुख्यमंत्री के वापस जाते ही कुछ अधिकारियों ने सारे तोहफे और पैसे लड़कियों से वापस ले लिए।

वहीं गांव वालों के आरोपों को खारिज करते हुए शिवपुरी के कलेक्टर ने कहा कि गांव वालों को जरूर कोई भ्रम हुआ है। उन्होंने कहा कि सीएम चौहान ने 2100 रुपए नहीं बल्कि 100 रुपए बांटे थे। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि सीएम शिवराज चौहान ने लड़कियों को स्वेटर भी बांटे थे।

हालांकि उन्होंने कहा कि मामले की जांच की जाएगी और जिन अधिकारियों ने कथित तौर पर गिफ्ट वापस लिया है उनकी जांच की जाएगी।

ख़बरों के मुताबिक, सहरिया आदिवासी काफी गरीब स्थिति में जिंदगी गुजार रहे हैं। शिवपुरी जिले के दौरे के दौरान शिवराज ने आदिवासी सम्मेलन में सहरिया आदिवासियों में बढ़ते कुपोषण पर चिंता जताई थी और कहा था कि गरीब परिवारों को राज्य सरकार सब्जी, फल और दूध के लिए हर माह एक हजार रुपए देगी।

Previous articleLalu Yadav’s first tweet after being convicted in Fodder Scam, invokes Mandela, Ambedkar
Next articleचारा घोटाला: दोषी करार दिए जाने के बाद लालू प्रसाद यादव ने ट्वीट कर BJP पर बोला हमला