सर्जिकल स्ट्राइक पर रिपोर्टर के व्यंग्यात्मक सवाल से रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ‘दुखी’, बोलीं- ‘सुनो मुझे हिंदी समझ में आती है’

0

मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण को एक रिपोर्टर द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर पूछे गए सवाल से काफी ‘दुख’ पहुंचा है। रक्षामंत्री को पत्रकारों से कहना पड़ा कि उन्हें हिंदी समझ में आती है। दरअसल मध्य प्रदेश में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान एक रिपोर्टर ने उनसे सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर व्यंग्यात्मक लहजे में सवाल किया, जिसके जवाब में निर्मला सीतारमण ने कहा कि उन्हें हिंदी समझ में आती है।

(AFP File Photo)

दरअसल, मध्य प्रदेश में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान शुक्रवार को जब एक रिपोर्टर ने रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण से पूछा कि क्यों दो साल बाद एनडीए सर्जिकल स्ट्राइक के मुद्दे को लेकर ‘बीन बजा’ रही है। रिपोर्टर का यह सवाल रक्षा मंत्री सीतारमण को एक तंज की तरह लगा। इस पर सीतारमण ने कहा कि सुनो जिस तंजिया लहजे में आपने ये सवाल पूछा है, उससे मुझे दुख पहुंचा है। मुझे हिंदी समझ आती है। आपने ‘बीन बजाने’ शब्द का प्रयोग किया है। मुझे पता है कि बीन बजाने का मतलब क्या होता है।

सीतारमण ने कहा, ‘जिस तंज भरे लहजे में आपने सवाल पूछा है, मुझे उससे दुख पहुंचा है। मुझे हिंदी आती है। आपने ‘बीन बजाने’ शब्द का इस्तेमाल किया।’ दरअसल रिपोर्टर ने पूछा था कि सरकार को क्या सर्जिकल स्ट्राइक को सार्वजनिक करना जरुरी था? यह सैनिकों के हित में था? क्या इससे पहले कांग्रेस पार्टी ने कभी सर्जिकल स्ट्राइक नहीं की। इस पर रक्षामंत्री ने कहा, ‘हर नागरिक को इसपर गर्व होना चाहिए।’

उन्होंने कहा, ‘क्या दुश्मन को माकूल जवाब देने पर हमें शर्मिंदा होना चाहिए? आतंकवादियों की मदद से हमारे ऊपर हमला किया गया तो हमने उनके आतंकवादी कैंप को निशाना बनाया। जिन जवानों ने देश के लिए जान गंवाई है उनके ऊपर हमें गर्व होना चाहिए। आगे उन्होंने सवाल पूछा कि क्या हमें इसके लिए शर्मिंदा होना चाहिए?

 

Previous articleNavjot Singh Sidhu mimics PM Narendra Modi in election campaign amidst applause from audience
Next articleGauri Lankesh’s killers from dreaded Hindutva outfit planned to assassinate 30 more people including these journalists across India