#MeToo: सुहेल सेठ पर लगे यौन शोषण के आरोपों पर महेश भूपति ने निकाली भड़ास, लारा दत्ता ने मुकेश छाबड़ा के साथ काम करने से किया इंकार

0

देश भर में चल रहे ‘मी टू’ अभियान (यौन उत्पीड़न के खिलाफ अभियान) के तहत हर रोज चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। अमेरिका से शुरू हुए ‘मीटू’ आंदोलन ने भारत में भी भूचाल मचा दिया है। मी टू अभियान के तहत हर रोज बॉलीवुड से कई महिलाएं आगे आकर अपनी आपबीती बयां कर रही हैं। ‘मी टू’ अभियान के तहत चार महिलाओं ने कमेंटेटर और मशहूर लेखक सुहेल सेठ पर भी यौन शोषण के आरोप लगाए हैं। हालांकि, सुहेल ने इन आरोपों को गलत बताया है।

इस बीच बॉलीवुड एक्ट्रेस लारा दत्ता के पति और मशहूर टेनिस स्टार महेश भूपति ने यौन शोषण के आरोप में घिरे सेलेब्स का नाम लेते हुए, उनसे सभी संबंध खत्म करने का ऐलान किया है। महेश भूपति ने ट्विटर पर #StopEngaging हैशटैग के साथ मीटू अभियान का समर्थन करते हुए अपनी बात रखी है। भूपति ने अपने पोस्ट में इस बात की जानकारी दी है कि उनकी पत्नी लारा दत्ता ने यौन शोषण के आरोप झेल रहे सभी लोगों के साथ काम न करने का फैसला किया है।

भूपति के मुताबिक लारा दत्ता ने यौन शोषण के आरोपी मुकेश छाबड़ा के साथ भी काम करने से इंकार कर दिया है। उन्होंने अपने पोस्ट में लिखा है कि दो दिन पहले मेरी पत्नी को मुकेश छाबड़ा की कंपनी के जरिए एक इंटरनेशनल डिजिटल कंपनी के प्रचार का ऑफर आया। वो शहर से बाहर थीं तो उन्होंने मुझे वो ऑफर भेजा और मेरी राय मांगी। मैंने लारा से पूछा कि क्या वो मुकेश छाबड़ा की कंपनी के साथ सही में काम करना चाहती हैं, खासकर तब जब उनका नाम मीटू में सामने आया है?

इस पर लारा ने कहा कि उस डिजिटल कंपनी ने भी तो मुकेश छाबड़ा से अपनी बिजनेस डील नहीं तोड़ी है। इसके बाद लारा ने उस डिजिटल कंपनी को कहा कि वो मुकेश छाबड़ा की कंपनी के जरिए कोई भी काम नहीं लेगी। भूपति ने कहा है कि मुझे लगता है कि लारा ने एकदम सही काम किया। हालांकि मेरा ये भी मानना है कि सिर्फ इतना करने से काम नहीं चलेगा।

आपको बता दें कि एक महिला ने छाबड़ा पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए थे, जिन्हें छाबड़ा ने बेबुनियाद बताया था।वहीं, फॉक्स स्टार स्टूडियोज ने शुक्रवार को बॉलीवुड के लोकप्रिय कास्टिंग डायरेक्टर मुकेश छाबड़ा को बतौर निर्देशक उनकी पहली फिल्म ‘किजी और मैनी’ से बाहर कर दिया है।

सुहेल सेठ पर साधा निशाना

महेश भूपति ने अपनी पोस्ट में सुहेल सेठ खान पर भी निशाना साधा है। सुहेल सेठ के इंस्टाग्राम अकांउट में जाकर देखिए उनकी लगभग हर सिलेब्रिटी के साथ तस्वीरें दिख जाएंगी। लेकिन उनमें से किसी एक ने भी ये जरूरत नहीं समझी कि सुहेल के औरतों के प्रति व्यवहार पर कुछ कहा जाए। मेरे जानने वाले इसके पीछे ये कारण देते हैं कि हमाम में सब नंगे हैं, लेकिन मैं इससे इत्तेफाक नहीं रखता।

उन्होंने आगे कहा है कि जो भी महिलाएं इस तरह के खराब माहौल में काम कर रही हैं और चुप हैं, उन्हें ये समझने की जरूरत है कि अपने यौन शोषण की बात शेयर करना कितना मुश्किल काम है। साथ ही मर्दों को भी समझने की जरूरत है कि अगर आप इस तरह के अन्याय में चुप रहकर भागीदार बने हैं, तो ये सही वक्त है कि अपनी गलती को सुधार लिया जाए।

यौन शोषण के आरोपियों के साथ खत्म किया संबंध

अपने पोस्ट में भूपति ने इस बात की माफी मांगी है कि वह अबतक इस मसले पर चुप रहे। ट्विटर पर जारी किए अपने एक बयान में भूपति ने कबूला है कि यौन शोषण के खिलाफ चले इस अभियान की घेरे में आए कुछ लोगों के साथ कभी ना कभी उनका भी संबंध रहा है, लेकिन अब वह इन लोगों के साथ कोई संबंध नहीं रखेंगे। महेश भूपति ने अपनी पोस्ट में साजिद खान पर भी निशाना साधा है।

उन्होंने लिखा है कि यौन शोषण की इन घटनाओं के सामने आने के बाद से ही मेरी पत्नी काफी परेशान है। मैं भी इन घटनाओं से उतना ही दुखी हूं। साजिद खान अब हाउसफुल 4 का डायरेक्शन नहीं कर रह हैं, लेकिन क्‍या यह काफी है?”  पोस्ट में महेश ने आगे लिखा है कि कल रात मुझे इंडस्‍ट्री से जुड़े एक दोस्‍त ने कहा कि इंडस्ट्री में हर कोई कुछ महीनों में इस कैंपेन के ठंडे होने का इंतजार कर रहा है। इसके बाद फिर सब पहले जैसा हो जाएगा।

महेश ने अपनी पोस्ट के अंत में लिखा है ‘मैंने यह फैसला लिया कि मैं कम से कम चुप नहीं रहूंगा। मैं सुहेल सेठ, विकास बहल, अनिर्बान, चेतन भगत, साजिद खान और अनु मलिक से सारे संबंध खत्‍म करता हूं।’ उन सभी प्रभावशाली लोगों से जिनकी बेहद विशाल फॉलोइंग है, मैं अपील करता हूं कि उन लोगों से किसी भी तरह का व्यवहार न रखें जो औरतों को अपना शिकार बनाते रहे हैं।

अभिनेता नाना पाटेकर पर एक फिल्म की शूटिंग के दौरान 2008 में अपने साथ दुर्व्यवहार करने का अदाकारा तनुश्री दत्ता द्वारा आरोप लगाए जाने के बाद देश में शुरू हुआ ‘‘मी टू’’ अभियान तेजी से आगे बढ़ा है। कई महिलाओं ने सामने आ कर विभिन्न शख्सियतों के खिलाफ अपनी शिकायत व्यक्त की है। यौन दुर्व्यवहार के आरोपियों में पूर्व विदेश राज्य मंत्री एम जे अकबर, फिल्म निर्देशक सुभाष घई, साजिद खान, रजत कपूर और अभिनेता आलोक नाथ आदि शामिल हैं।अकबर ने अपने खिलाफ लगे इन आरोपों को लेकर बुधवार को मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया।

Previous articleBJP government set to rename Shimla to Shyamala to appease VHP
Next articleVHP को खुश करने के लिए शिमला का नाम बदलकर ‘श्यामला’ कर सकती है बीजेपी सरकार, कांग्रेस ने उठाए सवाल