नाना पाटेकर के समर्थन में आए महाराष्ट्र सरकार के मंत्री, बोले- वह अभिनेता ही नहीं एक प्रसिद्ध समाजसेवी भी हैं

0
Follow us on Google News

अभिनेता नाना पाटेकर पर यौन शोषण का आरोप लगाने के बाद अकेली पड़ीं अभिनेत्री तनुश्री दत्ता को धीरे-धीरे बॉलीवुड के तमाम बड़े सितारों का सपोर्ट मिल रहा है। हालांकि कुछ लोगों ने या तो नाना पाटेकर का सपॉर्ट किया है या इस पर कोई रिऐक्शन नहीं दिया है। इसी बीच, तनुश्री दत्ता के आरोंपों को पब्लिसिटी स्टंट बताते हुए महाराष्ट्र के गृह राज्यमंत्री दीपक केसरकर नाना पाटेकर के समर्थन में उतर आए हैं। उनका कहना है कि तनुश्री के साथ हुए हादसों के कारण उन्हें सुरक्षा दी गई है, नाना पाटेकर की वजह से नहीं।

फाइल फोटो

महाराष्ट्र सरकार में गृह राज्यमंत्री दीपक वसंत केसरकर ने नाना पाटेकर का समर्थन करते हुए कहा कि जब तक किसी के खिलाफ कोई शिकायत न हो तो आप उस व्यक्ति पर आरोप नहीं लगा सकते। साथ ही उन्होंने कहा कि नाना पाटेकर सिर्फ एक अभिनेता ही नहीं बल्कि एक बहुत प्रसिद्ध समाजसेवी भी हैं।

केसकर का कहना है कि यह अब सबके सामने है कि नाना पाटेकर का किसी भी घटना से कोई संबंध नहीं है। इसी के साथ उन्होंने कहा कि यह तनुश्री की किसी के साथ व्यक्तिगत लड़ाई है। उन्ही लोगों ने उन पर हमला किया है इसलिए उन्हें सुरक्षा दी गई है।

बता दें कि दीपक केसरकर शिव सेना पार्टी के सदस्य हैं। इस पार्टी पर तनुश्री शुरू से आरोप लगा रही हैं कि उनकी गाड़ी पर हमला करने वाले गुडें शिव सेना के ही थे।

क्या है पूरा मामला?

बता दें कि तनुश्री दत्ता ने सेट पर हुई बदसलूकी के 10 साल पुराने मामले में नाना पाटेकर पर गंभीर आरोप लगाए है। तनुश्री दत्ता ने नाना पाटेकर पर फिल्म ‘हॉर्न ओके प्लीज’ की शूटिंग के दौरान गलत तरीके से छूने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि, नाना पाटेकर ने मेरे साथ गलत व्यवहार किया, मेरे कॉन्ट्रैक्ट में ऐसा कुछ नहीं था जिन सीन्स की डिमांग की गई।

तनुश्री का कहना है कि ‘नाना फिल्म के गाने में मेरे साथ कुछ इंटिमेट सीन्स करना चाहते थे।’ एक्ट्रेस ने आगे कहा, ‘जब उन्होंने इस बारे में प्रोड्यूसर और डायरेक्टर से बात की और कहा कि नाना को कहें कि वह दूर रहें। ऐसे में उन्होंने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया, क्योंकि मैं इंडस्ट्री में नई थी।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here