पत्रकारों ने अर्नब गोस्वामी के झूठ को किया बेनकाब, JNU के छात्रों पर रिपब्लिक टीवी के कर्मचारियों के साथ दुर्व्यवहार करने का लगाया था आरोप

0

अंग्रेजी समाचार चैनल ‘रिपब्लिक टीवी’ के विवादास्पद एंकर व संस्थापक अर्नब गोस्वामी ने मंगलवार की रात को जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) के छात्रों पर रिपब्लिक टीवी के कर्मचारियों के साथ दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया था। हालांकि, कई टीवी पत्रकारों ने उनके इस झूठ को बेनकाब किया है।

अर्नब गोस्वामी

गोस्वामी ने अपना प्राइम टाइम डिबेट शुरू करते हुए कहा, जेएनयू में कुछ लोगों की हिंसा और दुर्व्यवहार के खिलाफ रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क को रिपब्लिक टीवी और रिपब्लिक भारत को दिए गए समर्थन के लिए मेरे प्रिय दर्शकों, धन्यवाद। गोस्वामी ने आरोप लगाया कि छात्रों ने मंगलवार को अपने संवाददाता सम्मेलन को कवर करने से रोकने के लिए रिपब्लिक टीवी के कर्मचारियों के खिलाफ ‘बल’ का इस्तेमाल किया। इस दौरान उनके शो पर मौजूद मेहमानों ने गोस्वामी के आश्चर्यजनक आरोपों पर उनका भरपूर समर्थन दिया।

लेकिन क्या अर्नब गोस्वामी जो आरोप JNU के छात्रों पर लगा रहे थे वो सच थे? JNU छात्रों द्वारा आयोजित इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद कुछ पत्रकारों की प्रतिक्रिया से ऐसा लगता है कि रिपब्लिक टीवी के संस्थापक एक बार फिर सच्चाई के साथ किफायती थे।

पत्रकारों की प्रतिक्रिया से लगता है कि JNU के छात्रों पर जो आरोप अर्नब गोस्वामी ने लगाए है वो पूरी तरह से गलत है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, संवाददाता सम्मेलन के दौरान रिपब्लिक टीवी के प्रतिनिधियों में से एक को चिल्लाते हुए सुना गया, “हम आपके व्याख्यान को सुनने के लिए यहां नहीं आए हैं।”

देखिए कुछ पत्रकारों के ट्वीट

Previous articleमहाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर मचे सियासी घमासान के बीच पीएम मोदी से मिले शरद पवार
Next articleनोएडा: आम्रपाली सोसाइटी की सातवीं मंजिल से कूदकर महिला ने की आत्महत्या, सात महिने पहले हुई थी शादी