कोरोना के कहर के बीच बिहार में 2 दर्जन से ज्यादा खड़ी एंबुलेंस का खुलासा करने वाले पप्पू यादव गिरफ्तार, लॉकडाउन के नियम तोड़ने का आरोप

0

कोरोना वायरस के कहर के बीच बिहार में 2 दर्जन से ज्यादा खड़ी एंबुलेंस का खुलासा करने वाले पूर्व सांसद और जन अधिकार पार्टी (जाप) के अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव को मंगलवार सुबह पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने खुद ट्वीट करके यह जानकारी दी है।

पप्पू यादव

मंगलवार की सुबह पप्पू यादव के पटना स्थित आवास पर टाउन डीएसपी के नेतृत्व में पुलिस की एक टीम पहुंची। उन्हें हिरासत में ले लिया और उसके बाद उनकी गिरफ्तारी की पुलिस ने पुष्टि कर दी। उनपर सरकारी काम में बाधा डालने और लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने का आरोप है।

पप्पू यादव ने मंगलवार (11 मई) की सुबह अपने ट्वीट में लिखा, “मुझे गिरफ्तार कर पटना के गांधी मैदान थाना ले आया है।”

पप्पू यादव ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, “कोरोना काल में जिंदगियां बचाने के लिए अपनी जान हथेली पर रख जूझना अपराध है, तो हां मैं अपराधी हूं। PM साहब, CM साहब। दे दो फांसी, या भेज दो जेल। झुकूंगा नहीं, रुकूंगा नहीं। लोगों को बचाऊंगा। बेईमानों को बेनकाब करता रहूंगा!”

अपनी गिरफ्तार के बाद पप्पू यादव ने कहा, “वह आपको बताएंगे कि मुझे क्यों गिरफ्तार किया गया है। मैंने 1.5 महीनों तक हर परिवार की मदद की है, मैं एक ऑपरेशन के बाद भी मदद के काम में जुटा हुआ था। सरकार और नीतीश बाबू को पता होगा कि यह क्या है। लॉकडाउन के उल्लंघन पर गिरफ्तारी नहीं होती।”

बता दें कि, पप्पू यादव ने हाल ही एक स्थान पर धावा बोलकर दो दर्जन से ज्यादा एंबुलेंस बिना इस्तेमाल के रखे होने का मामले का खुलासा किया था। सभी एंबुलेंस की खरीदारी सारण से लोकसभा सांसद राजीव प्रताप रूडी के कोष से की गई थी। पप्पू यादव ने पूछा था कि इस समय जनता को एंबुलेंस की सबसे ज्यादा जरूरत है, ऐस में इन एंबुलेंस को खड़ा क्यों किया गया था, इस्तेमाल में क्यों नहीं लाया गया?

Previous articleCBSE Class 10th Results 2021: सीबीएसई ने स्कूलों की तरफ से कक्षा 10वीं के नंबर अपलोड के लिए लिंक किया एक्टिव, अधिक जानकारी के लिए cbse.gov.in/cbsenew/cbse.html को करें फॉलो
Next articleजेपी नड्डा ने सोनिया गांधी की लिखी चिट्ठी, बोले- महामारी के दौरान लोगों को गुमराह करना बंद करें कांग्रेस नेता, भय पैदा करने का लगाया आरोप