केंद्र सरकार ने पाटीदार नेता हार्दिक पटेल को मुहैया कराई ‘वाई श्रेणी’ की सुरक्षा, बताया जान का खतरा

गुजरात विधानसभा चुनाव जितना करीब आ रहा है राज्य में राजनीतिक गहमा-गहमी उतनी ही तेज होती जा रहीं है। इसी बीच ख़बर है कि, केंद्र सरकार ने गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल को वीआईपी सुरक्षा की ‘वाई’ श्रेणी की सुरक्षा देगी।

file photo- @HardikPatel_

न्यूज़ एजेंसी भाषा की ख़बर के मुताबिक, आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) को पाटीदार अनामत आंदोलन समिति (पास) के नेता की सुरक्षा का जिम्मा दिया गया है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि सीआईएसएफ कमांडो का एक दल जल्द ही सुरक्षा का प्रभार संभालेगा, पटेल के साथ करीब आठ कमांडो होंगे।

साथ ही उन्होंने बताया कि केंद्रीय खुफिया और सुरक्षा एजेंसियों द्वारा तैयार की गई रिपोर्ट में पटेल को ऐसी सुरक्षा देने की बात कही गई है। उन्होंने बताया कि उनकी सुरक्षा को खतरे की आशंका है और इसलिए उन्हें सशस्त्र सुरक्षा की जरूरत है।

बाते दें कि सीआईएसएफ देश के 60 वीआईपी की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभालती है। जिसमें राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहाकार अजीत डोभाल से लेकर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के चीफ मोहन भागवत भी शामिल हैं।

फिलहाल, हार्दिक पटेल की तरफ से इस बारे में अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। बता दें कि, गुजरात में सत्तारूढ सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का विधानसभा चुनाव के दौरान खुलेआम विरोध कर रहे हार्दिक ने कांग्रेस को परोक्ष समर्थन देने की बात हाल ही में की है।

गौरतलब है कि, गुजरात विधानसभा की कुल 182 सीटों के लिए दो चरणों में चुनाव कराए जाएंगे। पहले चरण का चुनाव 9 दिसंबर, जबकि दूसरे चरण का चुनाव 14 दिसंबर को होगा। बता दें कि गुजरात विधानसभा चुनाव की मतगणना हिमाचल प्रदेश विधानसभा के लिए हुए चुनाव के साथ 18 दिसंबर को होगी।

Leave a Comment