उत्तर प्रदेश: कानपुर में घर में घुसकर 22 वर्षीय दलित महिला से बंदूक की नोक पर गैंगरेप, गांव के पूर्व मुखिया पर लगा आरोप

उत्तर प्रदेश में महिला के खिलाफ अपराध थमने का नाम नहीं ले रहा है। हाथरस जिले में कथित गैंगरेप के बाद हुई लड़की की मौत का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि उत्तर प्रदेश के कानपुर से एक और दिल दहलाने वाली वारदात सामने आई है। कानपुर देहात में एक दलित महिला के साथ गांव के पूर्व मुखिया सहित दो लोगों द्वारा कथित तौर पर बंदूक की नोक पर दुष्कर्म करने की घटना सामने आई है।

उत्तर प्रदेश
प्रतीकात्मक फोटो

हालांकि, यह घटना एक सप्ताह पहले हुई थी, लेकिन पुलिस को रविवार को इसके बारे में सूचित किया गया। घटना डेरापुर थाना क्षेत्र के एक गांव की है। हालांकि, इस मामले में अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। पुलिस मामले में आगे की कार्रवाई कर रही है।

पुलिस अधीक्षक (कानपुर देहात) केशव कुमार चौधरी ने कहा, “पीड़िता के माता-पिता द्वारा दायर एक शिकायत के अनुसार, आरोपी उनके घर में उस समय घुस आए थे जब 22 वर्षीय महिला घर पर अकेली थी और उन्होंने बंदूक की नोक पर उसके साथ दुष्कर्म किया। इसके साथ ही उन्होंने पीड़िता को किसी से भी घटना के बारे में बोलने की हिम्मत करने पर गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी भी दी।”

उन्होंने आगे कहा, “आईपीसी और अनुसूचित जाति और जनजाति अधिनियम, 1989 के संबंधित धाराओं के तहत एक मामला दर्ज किया गया है। फरार आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए एसएचओ डेरापुर, सर्कल अधिकारी और अतिरिक्त एसपी के अलावा स्वाट टीम के साथ तीन पुलिस टीमों का गठन किया गया है।”

गौरतलब है कि, इससे पहले 19 सितंबर को हाथरस जिले में एक दलित महिला के साथ मारपीट करने और कथित रूप से सामूहिक दुष्कर्म होने के एक महीने बाद यह घटना घटी है। हाथरस मामले पर देशभर में लोगों ने कड़ी प्रतिक्रिया दी थी। (इंपुट: आईएएनएस के साथ)

Leave a Comment