दिल्ली यूनिवर्सिटी कैम्पस में हिंसा करने वाले अपराधियों के खिलाफ एकमत हुए केजरीवाल और एलजी

0

दिल्ली यूनिवर्सिटी कैम्पस में हुई हिंसा पर अपराधियों के खिलाफ दिल्ली के मुख्यमंत्री और उपराज्यपाल अनिल बैजल पहली बार एक स्वर में आवाज उठा रहे है।

आम आदमी पार्टी के संयोजक तथा मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज रामजस कालेज में हुई हिंसा के मुद्दे पर उपराज्यपाल अनिल बैजल से मुलाकात की तथा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की गुंडागर्दी और कारगिल के शहीद की बेटी गुरमेहर कौर पर अभद्र टिप्पणी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

उपराज्यपाल से मुलाकात के बादमुख्यमंत्री केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा किउपराज्यपाल बैजल ने उन्हें आश्वासन दिया है कि दोषियों के खिलाफ हर संभव कार्रवाई की जाएगी।

आपको बता दे कि दिल्ली विश्वविद्यालय के रामजस कॉलेज में हिंसक झड़पों के बाद लेडी श्रीराम कॉलेज की छात्रा और कारगिल शहीद कैप्टन मनदीप सिंह की बेटी गुरमेहर कौर ने सोशल मीडिया पर एक अभियान शुरू किया था, जिसका नाम है- ‘मैं ABVP से नहीं डरती।’ जिसके बाद सेगुरमेहर कौर का ये पोस्ट सोशल मीडिया पर एक आग की तरह फैल गयी। बाद में उन्हें ‘राष्ट्र विरोधी’ करार देते हुए सोशल मीडिया पर दुष्कर्म व जान से मारने की धमकी भी मिलने लगी थी।

इसके अलावा दिल्ली यूनिवर्सिटी में आज बड़ी संख्या में छात्र ABVP के विरोध में उतरे। ABVP के विरोध में इसे अब तक का सबसे बड़ा प्रर्दशन विरोध माना जा रहा है। इस मामले में गुरमेहर कौर केABVP की निंदा किए जाने के बाद मामले ने और तूल पकड़ ली थी। जबकि इससे पहले केवल दिल्ली विश्वविद्यालय के कार्यक्रमों में ABVP की हिंसक झड़प और हस्तक्षेप के बाद और देशभर में व्याप्त रोष था।

इसी विवाद से जुड़े मामले पर जनता का रिपोर्टर में एडिटर-इन-चीफ रिफत जावेद ने अपने खास कार्यक्रम Speak Up India के पहले एडिशन में बताया कि गुरमेहर का मन प्रदूषित होने की बात एक जिम्मेदार मंत्री किस प्रकार से कर सकता है जबकि बलात्कार की धमकियां देने वाले AVBP के लोगों को मंत्री महोदय कुछ भी नसीहत देने की बजाय उल्टे गुरमेहर पर ही आरोप मढ़ रहे है।

Previous articlePM meets victorious Indian cricket team for blind
Next articleABVP नेता सतेन्द्र अवाना ने इंडिया न्यूज़ के ऑफिस में AISA के प्रीतीश मेनन के साथ की मारपीट