लोकसभा चुनाव: उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और बिहार की अधिकांश सीटों पर रमज़ान के दौरान होगी वोटिंग, मुस्लिम धर्मगुरु और AAP विधायक ने उठाए सवाल

0

भारत के चुनाव आयोग ने 17वीं लोकसभा का चुनाव सात चरण में, 11 अप्रैल से 19 मई के बीच कराने का फैसला किया है। लेकिन मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना खालिद राशिद फिरंगी महली ने चुनाव आयोग से इस साल के लोकसभा चुनाव के अंतिम तीन चरणों की तारीखों को बदलने के लिए कहा है क्योंकि यह रमज़ान के पवित्र महीने में पड़ा है। खासकर पश्चिम बंगाल, बिहार, उत्तर प्रदेश और दिल्ली की अधिकतर सीटों पर आखिरी तीन चरण में ही मतदान होना है।

लोकसभा चुनाव

मौलाना खालिद रशीद फिरंगी ने 6 मई से 19 मई के बीच होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर नाराजगी जताई है। उन्होंने कहा है कि 5 मई को मुसलमानों के सबसे पवित्र महीने रमजान का चांद देखा जाएगा। अगर चांद दिख जाता है तो 6 मई से रोजे शुरू हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि रोजे के दौरान देश में 6 मई, 12 मई व 19 मई को मतदान होगा, जिससे देश के करोड़ों रोजेदारों को परेशानी होगी।

साथ ही उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग को देश के मुसलमानों का ख्याल रखते हुए चुनाव कार्यक्रम तय करना चाहिए था। उन्होंने चुनाव आयोग से मांग की है कि वह 6, 12 व 19 मई को होने वाले मतदान की तारीख बदलने पर विचार करे। हालांकि, मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने रविवार (10 मार्च) को चुनाव कार्यक्रम घोषित करते हुए कहा था कि पर्व-त्योहारों का ध्यान रखते हुए तारीख तय की गई हैं।

रमज़ान के पवित्र महीने 5 मई से शुरू हो रहा है। यानी 6, 12 और 19 मई को होने वाली आखिरी तीन चरणों की वोटिंग रमजान के दौरान होगी। गौरतलब है कि रमजान के दौरान मुस्लिम समाज के लोग सुबह सवेरे से शाम तक बिना कुछ खाए-पिए रोजा रखते हैं, ऐसे में ये सवाल उठाए जाने लगे हैं कि रोजे और भीषण गर्मी के दौरान मुस्लिम मतदाता घंटों तक लाइन में लगकर कैसे वोटिंग में हिस्सा ले पाएंगे।

कोलकाता के मेयर और टीएमसी नेता ने भी उठाए सवाल

कोलकाता के मेयर और टीएमसी नेता फिरहाद हकीम ने आरोप लगाया है कि बीजेपी चाहती है कि अल्पसंख्यक अपना वोट न डालें इसलिए रमजान के दौरान रोजे का ख्याल नहीं रखा गया। फिरहाद हाकिम ने आगे कहा, “चुनाव आयोग एक संवैधानिक संस्था है और हम उसका सम्मान करते हैं। हम उनके खिलाफ कुछ नहीं बोलना चाहते हैं। लेकिन 7 चरणों में चुनाव बिहार, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल के लोगों के लिए मुश्किल होगा। यह उन लोगों के लिए सबसे ज्यादा मुश्किल होगा जिनका उस समय रमजान चल रहा होगा।”

उन्होंने आगे कहा, “इन तीन राज्यों में अल्पसंख्यक आबादी काफी ज्यादा है। वह रोजा रखकर वोट डालेंगे। चुनाव आयोग को इस बात को अपने दिमाग में रखना चाहिए। बीजेपी चाहती है कि अल्पसंख्यक अपना वोट न डालें। लेकिन हम इससे चिंतित नहीं हैं। ” उन्होंने आगे कहा कि लोग बीजेपी हटाओ-देश बचाओ का मन बना चुके हैं।

AAP विधायक अमानतुल्ला खान ने बोले- बीजेपी को होगा फायदा

मुस्लिम धर्मगुरु के अलावा दिल्ली में आम आदमी पार्टी (आप) के मुस्लिम चेहरे और ओखला विधानसभा सीट से विधायक अमानतुल्ला खान ने भी रमजान के दौरान वोटिंग पर सवाल उठाए हैं। अमानतुल्लाह ने ट्वीट कर लिखा, “12 मई का दिन होगा दिल्ली में रमज़ान होगा मुसलमान वोट कम करेगा इसका सीधा फायदा बीजेपी को होगा।”

सुनील अरोड़ा ने घोषणा की कि पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल, दूसरे चरण का मतदान 18 अप्रैल, तीसरे चरण का मतदान 23 अप्रैल, चौथे चरण का मतदान 29 अप्रैल, पांचवें चरण का मतदान 6 मई, छठवें चरण का मतदान 12 मई और सातवें चरण का मतदान 19 मई को होगा। अरोड़ा ने बताया कि 23 मई को मतगणना के आधार पर चुनाव परिणाम घोषित होगा।

उत्तर प्रदेश की कुल 80 सीटों में से 41 सीटों पर रमज़ान के दौरान वोटिंग

उत्तर प्रदेश में 80 सीटों में से 41 लोकसभा सीटों पर (50 प्रतिशत से अधिक) रमजान के दौरान वोटिंग होगी। 6 मई को होने वाले पांचवें चरण में कुल 14 सीटों पर वोटिंग होगी। 12 मई को छठे चरण में कुल 14 सीटों पर वोटिंग होगी। 19 मई सातवें चरण में 13 सीटों पर वोटिंग होगी।

पश्चिम बंगाल में कुल 42 सीटों में से 24 सीटों पर पर रमजान के दौरान वोटिंग

पश्चिम बंगाल में कुल 42 सीटों में से 24 सीटों पर पर रमजान के दौरान वोटिंग होगी। 6 मई को होने वाले पांचवें चरण में कुल 7 सीटों पर वोटिंग होगी। 12 मई को छठे चरण में कुल 8 सीटों पर वोटिंग होगी। 19 मई सातवें चरण में 9 सीटों पर वोटिंग होगी। बता दें कि इसके अलावा दिल्ली की सभी सात सीटों पर 12 मई को वोटिंग कराई जाएगी।

बिहार की कुल 40 सीटों में से 21 सीटों पर रमज़ान के दौरान वोटिंग

बिहार में 40 सीटों में से 21 लोकसभा सीटों पर रमजान के दौरान वोटिंग होगी। 6 मई को होने वाले पांचवें चरण में कुल 5 सीटों पर वोटिंग होगी। 12 मई को छठे चरण में कुल 8 सीटों पर वोटिंग होगी। 19 मई सातवें चरण में 8 सीटों पर वोटिंग होगी।

Previous articleराहुल गांधी की मौजूदगी में 12 मार्च को कांग्रेस में शामिल होंगे पाटीदार नेता हार्दिक पटेल, ट्वीट कर दी जानकारी
Next article“माना की इस बार गुलाल चुनावी मौसम के बीच उड़ेगा पर हम अपने बच्चों को इस होली किसे गले लगाना है और किससे नज़रे फेर लेनी है ये सिखाएं?”