गाजियाबाद में बुजुर्ग मुस्लिम व्यक्ति से पिटाई का मामला: अभिनेत्री स्वरा भास्कर, ट्विटर इंडिया के MD मनीष महेशवरी समेत 5 के खिलाफ दिल्ली में शिकायत दर्ज

0

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में एक बुजुर्ग मुस्लिम व्यक्ति की पिटाई के बाद उसकी दाढ़ी काटने के मामले का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद इस मुद्दे पर विवाद लगातार बढ़ता ही जा रहा है। अब इस मामले में दिल्ली पुलिस को अभिनेत्री स्वरा भास्कर और ट्विटर इंडिया के एमडी मनीष माहेश्वरी व अन्य के खिलाफ तिलक नगर पुलिस थाने में शिकायत मिली है।

गाजियाबाद

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘हमें अभिनेत्री स्वरा भासकर, ट्विटर इंडिया के प्रबंध निदेशक मनीष माहेश्वरी और अन्य के खिलाफ तिलक मार्ग थाने में शिकायत की गई है। मामले की जांच जारी है।’’ शिकायत से जुड़ी विस्तृत जानकारी अभी मुहैया नहीं कराई गई।

गाजियाबाद में बुजुर्ग मुस्लिम व्यक्ति की पिटाई का वीडियो वायरल होने के मामले में अभिनेत्री स्वरा भास्कर, अरफा खानम शेरवानी, ट्विटर इंडिया के आसिफ खान और ट्विटर इंडिया के प्रमुख मनीष माहेश्वरी के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज की गई है। इन लोगों पर मामले में भड़काउ ट्वीट करने का आरोप लगा है।

अधिवक्ता अमित आचार्य ने दिल्ली के तिलक मार्ग पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है। फिलहाल, पुलिस ने शिकायत के आधार पर अभी तक प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई है। हालांकि, इस मामले में दिल्ली पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

वहीं, इससे पहले इस मामले से जुड़े कथित रूप से फर्जी वीडियो शेयर करने के आरोप में उत्तर प्रदेश पुलिस ने ऑल्ट न्यूज़ के सह-संस्थापक मोहम्मद ज़ुबैर, राणा अय्यूब और कुछ कांग्रेस नेताओं व ट्विटर समेत 9 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। पुलिस द्वारा दर्ज FIR में मोहम्मद ज़ुबैर, पत्रकार राणा अयूब, न्यूज़ पोर्टल ‘द वायर’, सलमान निजामी, मसकूर उस्मानी, डॉ समा मोहम्मद, सबा नकवी के साथ ट्विटर INC, और ट्विटर कम्युनिकेशन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड नामजद है।

गौरतलब है कि, सोशल मीडिया पर साझा की गई वीडियो में बुजुर्ग मुसलमान ने गाजियाबाद के लोनी इलाके में चार लोगों पर उन्हें मारने, उनकी दाढ़ी काटने और उन्हें ‘‘जय श्री राम’’ बोलने के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया है। गाजियाबाद पुलिस ने कहा कि उसने इस कथित घटना के संबंध में प्राथमिकी दर्ज कर ली है। घटना पांच जून की है लेकिन इसकी शिकायत दो दिन दिन बाद की गई।

गाजियाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अमित पाठक ने बताया कि पीड़ित अब्दुल समद बुलंदशहर के निवासी हैं और सात जून को दर्ज कराई प्राथमिकी में उन्होंने जबरन जय श्री राम का नारा लगावाने या दाड़ी काटने का आरोप नहीं लगाया था।

Previous articleफरीदाबाद: इंस्टाग्राम पर हनीट्रैप में फंसे व्यापारी ने खुद को आग लगाकर की आत्महत्या, महिलाएं समेत पांच आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार
Next articleटूलकिट मामला: दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 31 मई को ट्विटर इंडिया के एमडी से की थी पूछताछ