हार्दिक पटेल के समर्थन में आए सीएम केजरीवाल, बोले- ‘सभी किसान और पूरा समाज उनके साथ है, उनकी तपस्या व्यर्थ नहीं जाएगी’

0

गुजरात में पाटीदार समाज के नेता हार्दिक पटेल को अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठे सोमवार (3 सितंबर) को 10 दिन हो गए। वह अपने समुदाय के लिए आरक्षण और किसानों की कर्ज माफी की मांग को लेकर अनशन पर बैठे हुए हैं। वहीं, अब हार्दिक पटेल के समर्थन में सीएम केजरीवाल भी आ गए। केजरीवाल ने कहा कि हार्दिक की तपस्या व्यर्थ नहीं जाएगी, प्रभू उन्हें शक्ति दे।

दरअसल, अपने अनशन के 10 वें दिन हार्दिक पटेल ने ट्वीट करते हुए लिखा, “किसानों की क़र्ज़ा माफ़ी और आरक्षण की माँग को प्रदेश की सबसे बड़ी पटेल समाज की संस्था एवं कुलदेवी श्री उमिया धाम मंदिर ने भी समर्थन किया, यह तो सिर्फ़ अंगड़ाई है आगे और लड़ाई हैं।धीरे धीरे प्रदेश के हर एक व्यक्ति में संपूर्ण लोक क्रांति की ज्वाला जलेंगे, बुरी ताक़त को ध्वस्त करेंगे।”

हार्दिक पटेल के इसी ट्वीट को रीट्वीट करते हुए आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्‍ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लिखा, “किसानों की क़र्ज़ माफ़ी होनी चाहिए। हार्दिक पटेल ग़रीब किसानों की लड़ाई लड़ रहे हैं। सभी किसान और पूरा समाज उनके साथ है। उनकी तपस्या व्यर्थ नहीं जाएगी। प्रभू उन्हें शक्ति दे।”

बता दें कि पाटीदार समाज के नेता हार्दिक पटेल 25 अगस्त से पाटीदार (पटेल) समुदाय को नौकरी और शिक्षा में आरक्षण देने और गुजरात के किसानों का कर्ज माफ करने की मांग करते हुए शहर के बाहरी क्षेत्र स्थित अपने घर पर अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठे हैं।

बता दें कि अपने भूख हड़ताल के नौवें दिन रविवार (2 सितंबर) को हार्दिक ने अपनी वसीयत जारी की। जारी की गई वसीयत में हार्दिक ने कहा कि वह चाहते हैं कि उनकी संपत्ति का बंटवारा माता-पिता (भरत पटेल और ऊषा पटेल) और एक गोशाला के बीच हो।

पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के प्रवक्ता मनोज पनारा ने अहमदाबाद के पास हार्दिक पटेल के निवास पर संवाददाताओं से कहा कि पटेल ने अपनी मृत्यु के बाद अपनी आंखें दान करने की इच्छा व्यक्त की है।

 

Previous articleकेरल: शादी का झांसा देकर महिला से बलात्कार के आरोप में नौसेना अधिकारी गिरफ्तार
Next articleIPL खिलाड़ी मोहनीश मिश्रा पर युवती के अपहरण और छेड़छाड़ का मामला दर्ज, लड़की को अगवा कर मारपीट व कपड़े फाड़ने का आरोप