राहुल गांधी के फटकार के फौरन बाद कांग्रेस नेता सीपी जोशी ने जताया खेद, PM मोदी और उमा भारती की ‘जाति’ पर दिया था विवादास्‍पद बयान

0

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के फटकार के बाद राजस्थान की एक चुनावी सभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय मंत्री उमा भारती की जाति पर विवादित बयान देकर चौतरफा घिरे पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता सीपी जोशी ने आखिरकार अपने बयान पर खेद प्रकट किया है। राहुल गांधी ने शुक्रवार (23 नवंबर) को सीपी जोशी के इस बयान पर नाराजगी जताई थी और उनसे खेद प्रकट करने को कहा था।

आपको बता दें कि राजस्थान में एक चुनावी रैली के दौरान वरिष्ठ कांग्रेस नेता सीपी जोशी ने विवादित बयान दिया था। अपने विधानसभा क्षेत्र नाथद्वारा में एक सभा के दौरान गुरुवार को उन्होंने कहा कि हिंदू धर्म की बात ब्राह्मण जानते हैं। उन्होंने ग्रामीणों से प्रधानमंत्री मोदी, साध्वी ऋतंभरा और उमा भारती की जाति के बारे में पूछ लिया। सीपी जोशी के इस बयान को राहुल गांधी ने कांग्रेस पार्टी के आदर्शों के विपरीत बताया। साथ ही उन्होंने सीपी जोशी से अपने आपत्तिजनक बयान पर माफी मांगने का निर्देश दिया था।

राहुल गांधी ने शुक्रवार (23 नवंबर) को ट्वीट कर लिखा, “सी पी जोशी जी का बयान कांग्रेस पार्टी के आदर्शों के विपरीत है। पार्टी के नेता ऐसा कोई बयान न दें जिससे समाज के किसी भी वर्ग को दुःख पहुंचे। कांग्रेस के सिद्धांतों, कार्यकर्ताओं की भावना का आदर करते हुए जोशीजी को जरूर गलती का अहसास होगा। उन्हें अपने बयान पर खेद प्रकट करना चाहिए।”

राहुल गांधी के इस ट्वीट के कुछ देर बाद ही सीपी जोशी ने ट्वीट कर अपने बयान के लिए खेद जताया है। कांग्रेस नेता ने ट्वीट कर लिखा, ‘कांग्रेस के सिद्धांतों एवं कार्यकर्ताओं की भावनाओं का सम्मान करते हुए मेरे कथन से समाज के किसी वर्ग को ठेस पहुंची हो तो मैं उसके लिए खेद प्रकट करता हूं।’

बता दें कि सीपी जोशी ने कहा था, ‘उमा भारतीजी की जाति मालूम है किसी को? ऋतंभरा की जाति मालूम है किसी को क्या? इस देश में धर्म के बारे में कोई जानता है तो पंडित जानते हैं। अजीब देश हो गया। इस देश में उमा भारती लोधी समाज की हैं, वह हिंदू धर्म की बात कर रही हैं। साध्वीजी किस धर्म की हैं? वह हिंदू धर्म की बात कर रही हैं। नरेंद्र मोदीजी किसी धर्म के हैं, हिंदू धर्म की बात कर रहे हैं। 50 साल में इनकी अक्ल बाहर निकल गई।’

Previous articleSanitation worker masturbates in front of student in lift, Chennai university accused of blaming ‘dirty dress’ of north Indian girls
Next articleCongress leaders insulted traditional attire of north east: PM Modi to voters in Mizoram