कोरोना वायरस: महाराष्ट्र से लौटे लोगों की जानकारी देना युवक को पड़ा महंगा, पीट-पीटकर मार डाला

0

बिहार के सीतामढ़ी जिले के रून्नीसैदपुर थाना क्षेत्र में एक युवक को 2 लोगों ने पीट-पीट कर मार डाला। जानकारी के मुताबिक, मृतक युवक ने महाराष्ट्र से लौटे दो लोगों के कोरोना वायरस का संदिग्ध होने की जानकारी स्वास्थ्य विभाग तक पहुंचवाई थी, जिसके कारण पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी गई। इस मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए कई लोगों को गिरफ्तार भी किया है।

Image for representation

पुलिस के मुताबिक, महाराष्ट्र से लौटे दो लोग रून्नीसैदपुर थाना के मंधौल गांव आए थे। उनके महाराष्ट्र से लौटने की जानकारी गांव के ही बबलू राम नाम के एक युवक ने स्वास्थ्य विभाग तक पहुंचवा दी। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने दोनों संदिग्धों का सैंपल लिया। दोनों संदिग्धों को कोरोना टेस्ट करवाना पसंद नहीं आया और नाराज होकर दोनों ने अपने परिवार के अन्य सदस्यों के साथ मिलकर बबलू की बेरहमी से पिटाई कर दी, जिससे बबलू की मौत हो गई।

समाचार एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक, रून्नीसैदपुर के थाना प्रभारी डीपी सिंह ने मंगलवार को बताया, “इस मामले में मृतक के परिजनों के बयान पर हत्या की एक प्राथमिकी रून्नीसैदपुर थाना में दर्ज कर ली गई है, जिसमें छह लोगों को नामजद आरोपी बनाया गया है।”

समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए साल लोगों को गिरफ्तार किया तथा पूरे मामले की छानबीन की जा रही है।

गौरतलब है कि, लॉकडाउन होने के बाद दूसरे राज्यों से बड़ी संख्या में लोग बिहार पहुंचे हैं, जिससे इस महामारी का गांवों में फैलने का खतरा और बढ़ गया है। सरकार हर लौटे व्यक्ति की जांच कराने में जुटी है। बिहार में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 15 है।

Previous articleविजय माल्या बोला- लॉकडाउन की वजह से काम ठप, सारा पैसा लौटाने को तैयार
Next articleOther side of story: Tablighi Jamaat issues full statement explaining chronology, says no fact-check done before Kejriwal ordered ‘legal action’