गुजरात में हर दिन होती हैं 2 हत्याएं, बलात्कार की चार और अपहरण की 6 घटनाएं- विधानसभा में पेश किए गए आंकड़े

0

गुजरात विधानसभा में बुधवार को अपराध के आंकड़े पेश किए गए जिनमें सामने आया कि पिछले दो साल में राज्य में प्रतिदिन औसतन दो हत्याएं, बलात्कार की चार और अपहरण की छह घटनाएं हुईं हैं।

प्रतिकात्मक फोटो

राज्य के गृह विभाग की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, 31 दिसंबर 2020 तक, पिछले दो साल में राज्य के विभिन्न हिस्सों में 1,944 हत्याएं, 1,853 हत्या के प्रयास, 3,095 बलात्कार, अपहरण के 4,829 मामले और आत्महत्या के 14,000 से अधिक मामले सामने आए। विधानसभा के बजट सत्र में प्रश्नकाल के दौरान कांग्रेस के कई विधायकों द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब में यह जानकारी दी गई।

राज्य की सरकार भले ही महिलाओं की सुरक्षा को लेकर लाख दावे कर रही हो, लेकिन हकीकत इससे काफी दूर है। राज्य से रोज मासूम बच्चियों और महिलाएं से रेप व छेड़छाड़ की कोई न कोई घटनाएं सामने आती ही रहती है, जो चीख-चीखकर बता रही हैं कि यहां महिलाएं कहीं भी सुरक्षित नहीं है।

2019 में महिलाओं के खिलाफ सबसे अधिक अपराधों वाले राज्यों की सूची में उत्तर प्रदेश शीर्ष पर रहा। पिछले साल सितंबर में राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो द्वारा जारी किए गए नवीनतम आंकड़ों से यह बात सामने आई। उत्तर प्रदेश में 7,444 मामलों के साथ POCSO अधिनियम के तहत महिला बच्चों के खिलाफ सबसे अधिक अपराध हुए। उसके बाद महाराष्ट्र में 6,402 और मध्य प्रदेश में 6,053 थे। (इंपुट: भाषा के साथ)

Previous articleपीएम मोदी की दाढ़ी पर शशि थरूर के ट्वीट की वी मुरलीधरन ने की आलोचना, कांग्रेस सांसद ने भी दिया जवाब
Next articleअनुराग कश्यप और तापसी पन्नू के ठिकानों पर इनकम टैक्स की छापेमारी को लेकर राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, बोले- “IT-CBI-ED को उंगलियों पर नचाती है सरकार”