प्रधानमंत्री मोदी ने म्यामांर रक्षा सेवा में कमांडर इन-चीफ सीनियर जनरल यू मिन आंग लियांग से मुलाकात की

0

बुधवार को म्यामांर रक्षा सेवा में कमांडर इन-चीफ सीनियर जनरल यू मिन आंग लियांग ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की।

सीनियर जनरल यू मिन आंग लियांग ने म्यामांर के विकास में भरोसेमंद साझेदार के रूप में भारत की भूमिका की सराहना की। उन्होंने कहा कि म्यामांर भारत के साथ उसके संबंध को अत्यंत महत्वपूर्ण मानता है। उन्होंने कहा कि भारत केवल पड़ोसी के रूप में ही नहीं, बल्कि म्यामांर और भारत के बीच लंबे ऐतिहासिक और सांस्कृतिक संबंधों, साझा हितों और दोनों देशों के लोगों का लोगों से मजबूत संपर्क महत्वपूर्ण है।

Also Read:  Gujarat riots had support from the state, It's an era of Islamophobia: Kanhaiya Kumar

सीनियर जनरल लियांग ने समुद्री सुरक्षा सहित रक्षा और सुरक्षा के क्षेत्र में भारत के साथ संबंध बढ़ाने के लिए प्रतिबद्धता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि म्यामांर भारत की एक्ट-इस्ट पॉलिसी के समर्थन में एक महत्वपूर्ण मंच बना रहेगा।

सीनियर जनरल लियांग ने राष्ट्रपति यू थिन सिन की ओर से प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को म्यामांर आने का निमंत्रण दिया। प्रधानमंत्री ने कहा कि वे जल्द ही म्यामांर का दौरा करना चाहेंगे। प्रधानमंत्री ने राष्ट्रपति यू थिन सिन को भी जल्द ही भारत आने का न्यौता दिया।

Also Read:  Naqvi says International Yoga Day shouldn't be linked with religion

सीनियर जनरल लियांग ने म्यामांर सरकार और वहां की जनता की ओर से पूर्व राष्ट्रपति डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम के निधन पर शोक व्यक्त किया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत रक्षा और सुरक्षा सहित सभी क्षेत्रों में म्यामांर के साथ द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। मजबूत और खुशहाल म्यामांर भारत के हित में है और उन्होंने म्यामांर के विकास के प्रयासों में भारत के समर्थन का आश्वासन दिया।

Also Read:  Donald Trump does it again, confuses 'heal' with heel on Twitter

प्रधानमंत्री ने कहा कि म्यामांर “आसियान के लिए भारत का द्वार” है और उन्होंने दोनों देशों के बीच बेहतर संपर्क का आग्रह किया।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि वे एक स्थायी बहु-दलीय जनतंत्र के लिए बदलाव के बारे में म्यामांर के लोगों की उम्मीदों का सम्मान करते हैं। उन्होंने म्यामांर के आगामी चुनाव के लिए शुभकामनाएं दीं और आशा व्यक्त की कि यह चुनाव शांतिपूर्ण, स्वतंत्र और निष्पक्ष हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here