भारत-अफ्रीका शिखर सम्मेलन में हाइलेवल ड्रामा

0

भारत-अफ्रीका शिखर सम्मेलन  के आख़री दिन उस समय हाइ लेवल ड्रामा देखने को मिला जब दक्षिण अफ्रीका की प्रथम महिला, ग्लोरिया बोंगेकिले नगमा जुमा, अपनी सीट से उठकर अचानक उठकर चली गई।

दरअसल आयोजकों को इस बात की जानकारी थी कि वह गुरुवार शाम को किसी सगाई में जाने के लिए उत्सुक थी और उसके लिए उन्हें देर हो रही थी।

यह बात राष्ट्रपति भवन में गुरुवार का कार्यक्र्म शुरू होने से लगभग दो घंटे पहले की है कार्यक्र्म के लिए 7 बजे शाम का समय निर्धारित किया गया था। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी खुद भी वहां मौजूद थे।

लेकिन समिट में भाग लेने वाले प्रतिनिधियों का लंबे समय तक यातायात में फंस जाने के कारण देर हो रही था। शिखर सम्मेलन के मीडिया सलाहकार के अनुसार शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत लगभग आठ वक्ताओं को निमंत्रण दिया गया था।

आयोजकों द्वारा सावधानी बरतने के बावजूद स्क्रीन पर गलत नामों का आना और नामों का गलत उच्चारण भी इस समिट में एक नाटकीय घटना रहा। इसका कारण था कि अफ्रीकी नामों को हिंदी शैली में पढ़ा जाना जिसमें काफी गलतियां देखने को मिली।

इसके साथ-साथ एक और मुद्दा इस शिखर सम्मेलन में देखने को मिला वह था राज्य के प्रमुखों का देर से आना और मंच प्रबंधन प्रोटोकॉल के लिए बहुत ही कम समय देना। इसके कारण राज्य के कई प्रमुखों को निर्धारित समय सीमा से कम बोलने का मौका दिया गया।

एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक मेहमानों को बोलने के लिए और  भाषण के लिए समय सीमा का संकेत करने के लिए जो तीन बत्ती (हरे, नारंगी और लाल) लगाई गई थी उसके बारे में भी जानकारी नहीं दी गई थी।

LEAVE A REPLY