अमेरिकियों को बेसबॉल की ज़गह क्रिकेट का बैट पकड़ाना चाहते हैं सचिन तेंदुलकर

0

दिग्गज भारतीय बल्लेबाज मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर अमेरिका में क्रिकेट के प्रसार की नई संभावनाएं देख रहे हैं।

उन्होंने कहा है कि वह चाहते हैं कि अधिक से अधिक अमेरिकी युवा बेसबॉल के साथ-साथ क्रिकेट को भी अपनाएं।

अमेरिका की तीन शहरों की मेजबानी में अगले महीने होने वाले 10 दिवसीय तीन मैचों की ऑल स्टार टी-20 श्रृंखला की दिग्गज आस्ट्रेलियाई स्पिनर शेन वार्न के साथ अगुवाई करने वाले तेंदुलकर ने कहा, “आप कोई चीज तभी सीख सकते हैं, जब आप उसे सीखने की कोशिश करें।”

पत्रिका ‘टाईम’ ने तेंदुलकर के हवाले से कहा है, “अमेरिका में लोगों को बेसबॉल की आदत है और यह क्रिकेट से काफी मिलता जुलता खेल है। अगर अमेरिकी लोग क्रिकेट देखने स्टेडियम आना शुरू करते हैं तो मुझे कोई आश्चर्य नहीं कि वे क्रिकेट के भी दीवने हो जाएंगे।”

Also Read:  शुक्रवार से नगर निगम कर्मचारी बैठेंगे हड़ताल पर

तेंदुलकर का मानना है कि सिर्फ एक बार होने वाले इस टूर्नामेंट का प्रभाव इस बात से जाना जा सकेगा कि इससे कितने लोग प्रभावित होते हैं।

तेंदुलकर ने कहा, “मैं अमेरिका में सिर्फ इसी दौरे की उम्मीद नहीं कर रहा, बल्कि अपने अगले दौरों की भी मुझे पूरी उम्मीद है। मैं देखना चाहूंगा कि अमेरिका में कितने लोग बेसबॉल के साथ-साथ क्रिकेट को भी पसंद करना शुरू करते हैं। क्योंकि इसका मतलब होगा कि हम कुछ प्रभाव छोड़ने में सफल रहे।”

Also Read:  मजबूत हो रहे भारत-अमेरिका के संबंध, मोदी

तेंदुलकर के साथ पूर्व स्टार खिलाड़ियों के इस टूर्नामेंट को जन्म देने वाले वार्न ने कहा, “अमेरिका यह जानने के लिए उत्सुक है कि आखिर क्रिकेट देखने में किस तरह के आनंद की अनुभूति होती है। आखिर यह सारी हलचल किस चीज को लेकर है? आखिर यह दुनिया का दूसरा सबसे पसंदीदा खेल क्यों है? आखिर इस खेल में एसी क्या खासियत है?”

Also Read:  सिसोदिया का दावा- चुनाव आयोग ने EVM हैक करने की चुनौती को खारिज कर दिया

तेंदुलकर और वार्न इस टूर्नामेंट में अपनी-अपनी टीमों की कप्तानी करेंगे। टूर्नामेंट में क्रिकेट इतिहास के कुछ सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों को फिर से खेलते देखा जा सकेगा। टूर्नामेंट के तीनों मैच तीन अमेरिकी शहरों, न्यूयार्क, लॉस एंजेलिस और ह्यूस्टन में बेसबॉल स्टेडियम में सात, 11 और 14 नवंबर को खेले जाएंगे।

इस टूर्नामेंट में पाकिस्तान के वसीम अकरम, दक्षिण अफ्रीका के शॉन पोलाक, वेस्टइंडीज के ब्रायन लारा और श्रीलंका के माहेला जयवर्धने जैसे कुछ धुरंधर खिलाड़ियों को फिर से खेलते देखने का मौका मिलेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here