मुख्यमंत्री के तौर पर पंजाब में केजरीवाल हैं 72 % लोगों की पसंद, ‘आप’ को 50 % लोगों का समर्थन

11

वृहस्पतिवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविन्द केजरीवाल ने पंजाब के मुक्तसर में एक बड़ी जनसभा को सम्बोधित किया।

पिछले साल दिल्ली के मुख्यमंत्री बनने के बाद पंजाब का यह उनका पहला दौरा था!

2014 के लोकसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को मिलने वाली चारों सीटें पंजाब से आई थीं । पार्टी को यह आशा है कि 2017 के चुनाव में भी पंजाब के वोटर उन्हें जीत दिलाएंगे।

निमो पोल सर्वे एजेंसी और जनता का रिपोर्टर ने मिलकर पंजाब और दिल्ली के 3000 लोगों से इस मामले पर उनकी राय पूछी ।

कई अटकलों के अनुसार ये कहा जारहा है कि पंजाब में जीत के बाद केजरीवाल दिल्ली छोड़ कर पंजाब में सत्ता का कमान संभाल सकते हैं ।

लेकिन हमारे द्वारा पूछे गए अधिकतर दिल्ली वासियों का कहना था के वो केजरीवाल के काम से खुश हैं और वो नहीं चाहेंगे कि आम आदमी पार्टी के संयोजक पंजाब जाएँ।

वहीँ पंजाब के अधिकांश लोग केजरीवाल को अपने राज्य में मुख्यमंत्री के तौर पर देखना चाहते हैं।

साफ़ है दिल्ली से ज्यादा पंजाब के लोग अरविन्द केजरीवाल को मुख्यमंत्री देखना चाहते हैं

  • दिल्ली के 60 फीसदी लोगों ने कहा दिल्ली नहीं छोड़े केजरीवाल
  •  पंजाब के 72 फीसदी लोग चाहते हैं कि दिल्ली छोड़कर पंजाब के मुख्यमंत्री बने केजरीवाल
  • पंजाब में किसकी सरकार: आप पार्टी को 50 फीसदी, कांग्रेस को 28 फीसदी, अकाली दल गठबंधन को 22 फीसदी लोगों का समर्थन
  • अमरिंदर के गढ़ पटियाला में केजरीवाल को चुनौती
  • फतेहगढ़ साहेब और जलंधर में कांग्रेस और आप के बीच कड़ी टक्कर
  • 40 फीसदी अकाली दल वोटर भी केजरीवाल को पंजाब का मुख्यमंत्री चाहते हैं
  •  35 फीसदी कांग्रेसी वोटरों का मुख्यमंत्री पद के लिए केजरीवाल को समर्थन

survey3

survey2

survey 1

 

पंजाब के लोगों से पूछे गये सवालों के आधार पर ये दिलचस्प आकडे भी सामने आये हैं.

  •  पंजाब में आम आदमी पार्टी को 50% लोगों का समर्थन मिला है जबकि अरविन्द केजरीवाल  को 72% वोट मिलते दिख रहे हैं. यानि केजरीवाल अपनी पार्टी से 22% ज्यादा पोपुलर हैं.
  •  केजरीवाल सबसे पोपुलर रूपनगर डिस्ट्रिक्ट में दिखे जहाँ 88% लोग उन्हें मुख्यमंत्री चाहते हैं जबकि अमरिंदर सिंह के गढ़ पटियाला में केजरीवाल सबसे कम पोपुलर दिखे जहाँ 47% लोग उन्हें मुख्यमंत्री देखना चाहते हैं
  •  फतेहगढ़ साहेब और जलंधर डिस्ट्रिक्ट में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस में कांटे की टक्कर नजर आ रही है. फतेगढ़ साहेब में दोनों को 37.5% और जालंधर में दोनों को 38.3% वोटरों का समर्थन दिख रहा है.
  •  अगर केजरीवाल मुख्यमंत्री बनते हैं तो 40% अकाली वोटर आम आदमी पार्टी को वोट देंगे
  •  केजरीवाल को मुख्यमंत्री बनाने के लिए 35% कांग्रेसी वोटर भी आम आदमी पार्टी को वोट देने को तैयार हैं.

निमो-जनता का रिपोर्टर सर्वे में कुल 3000 लोगों की राय ली गयी है जिनमे से 2000 लोग पंजाब के वोटर हैं और 1000 दिल्ली के वोटर हैं. पंजाब के लोगों से सिर्फ पंजाब सम्बंधित और दिल्ली के लोगों से सिर्फ दिल्ली से सम्बंधित प्रश्न पूछे गये थे.

 

11 COMMENTS

  1. GREAT………..THE AAP TSUNAMI WILL NOW TAKE OVER PUNJAB..punjab will become most developed state in india…its a given.i am happy.

        • I am an AAP supporter but JKR is to AAP what niticentral and opindia is to BJP. No neutral person will believe this survey as everybody knows JKR bias towards AAP.
          A message to Rifat u cant revolutionize journalism if u r branded as AAP sponsored media

          • no you are wrong…i am following this website and they do criticise aap..for example ouster of yogendra yadav was criticised here and also have cautioned aap on selection of candidates.they criticised kejriwal just a few days ago.you feel it is pro-aap becoz unlike other websites they write as it is..when it comes to aap…so in comparison you feel that it is pro-aap.but actually they are just reporting facts not distorted facts.

        • AAP will divide india for their self styled administration . they seek seperation for punjab to become king . WHAT HE IS DOING IN DELHI IS QUITE EVIDENT

          • BUT HIS MANISH SISODIA MADE COMPLAINT TO TAKE ACTION. IF HE ASKS NO CASE FROM AK THEN SHE WILL BE LEFT. SHE WOULD HAVE SLAPPED HIM SO THAT ONE AUTO DRIVER WAS EXCUSED LIKE THAT SHE MIGHT HAVE EXCUSED IF SHE SLAPPED HIM AFTER ALL SHE HAILS FROM DELHI AND SHE IS LADY AND AAP LEADER.,

          • even before anyone said anything she was already taken into custody nd sent to jail.. it is the police who pursued the case in court ..and were asking for stricter punshment..i hvnt heard anything of sisodia making formal complaint against the women in police station.giv me source.she is ab aam admi sena leader and nt an aap leader. it s the same organisation which painted all posters red when kejriwal claimded 35 arrests of corrupt office..they are as much associated wd aap as swaraj abhiyan is!!..its foolishness to believe they are associated with aap when they thmselves are saying they are a splinter group of aap……………………….

  2. few months back a survey by C-voter predicted 55% popularity of kejriwal..now it has increased to 72%..signs are very positive for AAP…..aap will 117 out of 117 seats in punjab.

  3. Kejriwal g se Delhi to sambhlta ni to khak wo Punjab sambhalenge.
    Delhi wale Kejriwal dnce n nautanki se waise v presan hi
    Mr Kejriwal is dangerous for country n future too. Always play blame game against his failure
    Mr Kejriwal makes us fool so pl be cautious

LEAVE A REPLY