वन रैंक वन पेंशन की मांग पर पूर्व सैनिक ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में बताया कारण

0

राजधानी में वन रैंक-वन पेंशन की मांग के लिए प्रदर्शन कर रहे एक पूर्व सैनिक ने आत्महत्या कर ली है। सुबेदार रामकिशन ग्रेवाल अपने कुछ साथियों के साथ सोमवार से जंतर-मंतर पर धरना दे रहे थे।

मरने वाले सैनिक का नाम रामकिशन ग्रेवाल है। वह हरियाणा के भिवानी जिले के बामला गांव का रहने वाले थे। बताया जाता है कि ग्रेवाल ने जहर खाकर जान दी। राम किशन हरियाणा सरकार के पंचायत विभाग में भी कार्यरत थे।

वन रैंक वन पेंशन

राम किशन के बेटे ने बताया कि उसके पिता ने घर पर फोन किया और बताया कि वह सुसाइड कर रहे हैं क्‍योंकि सरकार वन रैंक वन पेंशन पर उनकी मांगों को पूरा करने में नाकाम रही है। राम किशन की ओर से मांग पत्र पर कथित तौर पर लिखा गया, ”मैं मेरे देश के लिए, मेरी मातृभूमि के लिए लिए एवं मेरे देश के वीर जवानों के लिए अपने प्राणों को न्‍यौछावर कर रहा हूं।”

रामकिशन के छोटे बेटे के मुताबिक, उसके पिता ने खुद इस बात की सूचना फोन करके उसे दी. ज़हर खाने के बाद रामकिशन को राम मनोहर लोहिया अस्पताल भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान मंगलवार देर रात रामकिशन की मौत हो गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here