“ये हवा से TV पे और TV से हवा में मार करने वाली लंबी दूरी की मोदी मिसाइल … बस यही है हमारा मुंहतोड़, कानफोड़ करारा जवाब।”

5

देश हताश और निराश है, हमले हो रहे है, सैनिक शहीद हो रहे है। सरकार दिशाहीन और कमजोर दिख रही है। पर इस सबसे ज्यादा बुरा कुछ और हो रहा है। ध्यान भटकाने की कोशिश, झूठ फ़ैलाने की कोशिश, बहकाने व बरगलाने की कोशिश।

कई अंध भक्त मीडिया चैनेल जो रोज घंटो तक कैसे मोदी जी ने पाकिस्तान को बर्बाद कर दिया, कैसे अब चीन भी डर गया, कैसे पूरी दुनिया मोदी जी की दीवानी है, कैसे दाऊद काँप रहा है, कैसे हाफिज डरा हुआ है, ये सब देश को दिखाते रहते है वो अब इज़्ज़त बचाने के लिए झूठ का बाजार सजा रहे है।

देश के अंदर दुश्मन ढूंढें जायेंगे, बरखा को गाली, राजदीप को गाली, मुसलमान गद्दार, आम आदमी पार्टी देश द्रोही, कांग्रेस ने धोखा दिया, रवीश के कारण मारे गए सैनिक, अभिसार न होता तो अब तक पाकिस्तान ख़तम हो गया होता। सच ये है कि हमारा PM कमजोर है, दिशाहीन है, क्लूलेस है। वो दुनिया घूमते रहे और आज हम अकेले खड़े है। वो Times Now वाले अमेरिका में जाकर ये साबित करने में लगे है देखो अमेरिका ने पाकिस्तान को डांटा, देखो रशिया ने पाक को झटका दिया।

Also Read:  Gamlin Row: Members of North East community protest

वो newsx वाले बता रहे है कैसे उनके सवालो से बचकर नवाज शरीफ भागे। ज़ी न्यूज़ वाले या वो निशांत चतुर्वेदी लगे पड़े हैं ये समझाने में कि भारत अब बदल गया है। बस अगर ये न होते और वो न होते और ऐसा न होता और वैसा न होता तो मोदी जी ने पाकिस्तान का नामोनिशान मिटा दिया होता। सच ये है कि भारत माँ घायल है, माता के बच्चे मारे गए है। किसने मारा सबको पता है। कहाँ है दुश्मन सबको पता है। फिर मारेगा दुश्मन हमें ये भी सबको पता है। पर किसी की हिम्मत नहीं ये बोलने की कि हमें धोखा दुश्मन ने नहीं दिया, दुश्मन मारेगा ये हमें पता था, हमें धोखा हमारी सरकार ने दिया है। वो चुप्पी साध लेंगे ये नहीं पता था। वो सामने नहीं आएंगे ये नहीं पता था। हमें धोखा इन अंध भक्तो ने दिया जो रोज नया महिमा गान सुनाते थे। जो आज भी दरबारी गीत सुना रहे है।

Also Read:  Trump's phone call to Nawaz Sharif will upset delicate balance of India-Pakistan ties

आज का कड़वा सच ये है कि मोदी जी की 56 इंच की छाती तो छोड़ो, बीते भर की जबान भी जैसे अकड़ गई है। सामने आने को तैयार ही नहीं देश के। रक्षा मंत्री जो सिर्फ गोवा में जिंदगी बिता रहे थे, फिर वापस जाने को फड़फड़ा रहे है। सरकार हक्की बक्की है। देश की आँखों में धूल झोकने के लिए नयी नयी कहानियां गढ़ने की तैयारी है। मोदी जी को पुनः विश्व नायक बनाने का मसाला ढूँढा जा रहा है। कैसे नवाज की बोलती बंद। अब नहीं बचेगा पाकिस्तान। भारत अपनी मर्जी से बदला लेगा। सारी दुनिया में पाकिस्तान अकेला पड़ा… झूठ बेचने की पूरी तैयारी है। कन्हैया की कोई पुरानी वीडियो निकाल लो, बलूचिस्तान का गाना सुना दो… दिनकर ने लिखा था मानो जनता हो फूल जिसे अहसास नहीं जब चाहो तभी उतार सजा लो दोनों में या कोई दुधमुंही जिसे बहलाने के जंतर मंतर सीमित हो चार खिलौनो में खेल खेला जा रहा है। झूठ बेचा जा रहा है।

मनीष सिसोदिया की आइस क्रीम गिनने वालों कि औकात नहीं कि पूछ सके, हिम्मत है तो देश के सामने आओ मोदी जी, बात करो देश से। जवाब दो ये आतंकवादी घर में घुसे कैसे। तुम्हारी चौकीदारी का क्या हुआ? बताओ देश को, नवाज शरीफ से क्या डील करने जाते थे बार बार। पूछो मनोहर पर्रिकर से, क्यों चिपके बैठे है कुर्सी से।

Also Read:  Anupam Kher gifts mother her dream house in Shimla

कोई नैतिक जिम्मेदारी, कोई अंतर आत्मा की आवाज। कोई accountability नहीं। अंध भक्त नाराज है। पाकिस्तान से नाराज नहीं है, हमसे नाराज है। सवाल पूंछने वालो से। जब जब मोदी जी की नवाज के साथ फोटो देखता हूँ, खून खौलता है। अरे हमला नहीं कर सकते कम से कम Most Favourite Nation का दर्जा तो खत्म करो। वापस भेजो उनके राजदूत को या उसके लिए अमेरिका से परमिशन नहीं मिली। दुनिया की छोडो, भारत सरकार तो पहले पाकिस्तान को आतंकवादी देश घोषित करें। घोषणा करें कि जो भी पाकिस्तान से दोस्ती करेगा, व्यापार करेगा उसे भारत से रिश्ते ख़तम करने होंगे। हिम्मत करो मोदी जी। देश साथ खड़ा है। झूठ बेचना बंद करो और हिम्मत करो। पहला कदम तो आगे बढ़ाओ।

5 COMMENTS

  1. बहुत खूब कहा है। हर एक भारतवासी के दिल की बात है। भक्तो को पूरी तरह नंगा कर दिया आपने। आजकल बस यही हो रहा है। ***** कम, चिल्लाना ज्यादा। काम कुछ दीखता नहीं, सिर्फ शब्दो के तीर चल रहे है।

  2. इतनी जनसंख्यॉ तो हमारे भारत का ,कि बिना गोला-बारूद के दो-दो हाथ कर ले , पर ये बताओ मिश्रा जी जब पैलेट गण पर रोक लगा तब कहॉ था ये कलम और लेख , जब इसी भारत में आतंकी के जनाजे पर भीड़ जुटि थी तब कहॉ था ये कलम और लेख , जब आधी रात को कोर्ट खुला आतंकि के सुनवाई के लिए तब कहॉ था ये कलम और ये लेख |
    मिश्रा जी ये लेख इस लिए नही है कि 17 सपुत शहिद हो गए , केबल इस लिए है कि प्रधानमंत्री मोदी है | हमारे भारत ने आज से नही शताब्दीयों से हमले झेलता रहॉ है ,केबल इस लिए कि हमें आपसी मतभेद ज्यादा पसंद है |
    युद्ध तो मोदी-पारिकर-राजनाथ दो मिनट में शुरू करवा दे , सायद २-४ पन्नों पर उन्हें दस्तखत करना पड़े ,२-४ मिटिंग बुलाना पड़े |
    मिश्रा जी पर ये बताइये कल सरहद पर एक सपुत कि जरूरत पड़े तो बिना बुलाए पहुचोगें |
    अगर हॉ !
    तो इंतजार किस बॉत का कर रहे है ,भारत हम-आप का भी मातृभुमी है चलिए कर्ज उतार लें |
    किसी मोदी-राहुल-केजरीवाल-नीतीश का बपौती नही है ये भारत | सिखीए उन आतंकियों से आता है – मार कर जाता है|
    अगर नही !
    तो हम-आप अपना काम करते है वो भी देश सेवा ही होगा | लेख लिख देना बड़प्पन नही है | देश ना तो किसी गलत ना अयोग्य के शासन में है | दुर से हर हालात और परिस्थीतीयों पर तर्क संभव नही है | ना ही युद्ध समस्या का समाधान , युद्ध हम ने पहले भी किये है पर समस्या जस-का-तस है |

  3. क्या रे बन्दर मिश्रा, दिमाग का इलाज बापिये की मोहल्ला क्लिनिक में जा कर क्यों नहीं करवाता।

  4. #केजरीवाल के सिपाहसलार है कपिल मिश्रा.
    जिस तरह केजरीवाल की बार बार मोदी जी बताएँ, मोदी जी जवाब दें, मोदी ये मोदी वो करने की आदत है, ठिक उसी तरह केजरीभक्त कपिल मिस्रा नया केजरीवाल बनने के लिये मोदी मोदी रटना शुरू किया है. इस मूर्ख को इतना भी ज्ञान नहीं है कि जब देश पर संकट हो, आतंक का साया हो तो एक सच्चे भारतीय की तरह रहना चाहिये.
    एक तरह से लगता है कि आम आदमी #AAP केवल लात खाने के लिये है.
    इस तरह से यह भी प्रमाणित होता है कि पाक समर्थक आम आदमी की शक्ल में देश को नुकसान पहुंचाने में लगा है.
    जिस समय सभी को भारत सरकार के साथ होना चाहिये, देशद्रोही पत्रकारों की टोली देश को खोखला करने के लिये जी जान से जुट गया है.
    कभी मरने वाले सैनिकों के लिये 50लाख-1करोड़ निकाला क्या?
    सरकार तुम्हें टेलीफोन करके कोई काम करेगी क्या?
    आम आदमी को सिवाय बदनाम करने और मूर्ख बनाने के सिवा कौन सा सकारात्मक काम किया ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here