श्रीनगर में मुहर्रम जुलूस पर प्रतिबंध

0

श्रीनगर में शनिवार को कानून-व्यवस्था बनाए रखने के मद्देनजर एहतियात के तौर पर मुहर्रम जुलूस पर प्रतिबंध लगा दिया गया।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने आईएएनएस को बताया, “खानयार, रैनावाड़ी, नौहट्टा, एम.आर.गुंज, सफाकदल, लाल बाजार और मैसूमा के सात पुलिस थानों में मुहर्रम जुलूस पर आज (शनिवार) पाबंदी लगाई गई है।”

Also Read:  बांग्लादेश के मस्जिद में विस्फोट से एक की मौत, 90 घायल

जम्मू एवं कश्मीर में 1990 के दशक के शुरुवाती वर्षो में अलगाववादी हिंसा शुरू होने के बाद से ही प्रशासन ने यहां मुहर्रम जुलूस पर प्रतिबंध लगाया हुआ है।

Congress advt 2

इस्लामिक कैलेंडर के अनुसार, ‘आशूरा’ या मुहर्रम का 10वां दिन पैगंबर मोहम्मद के नवासे इमाम हुसैन की शहादत के रूप में मनाया जाता है।

Also Read:  कर्नाटक: महिला से छेड़छाड़ के आरोपी का सिर मुंडवाकर गांव के लोगों ने ढोल नगाड़ों के साथ घुमाया

वरिष्ठ अलगाववादी नेताओं सैयद अली गिलानी, मीरवाइज उमर फारुख, मुहम्मद यासीन मलिक, शब्बीर शाह और मुहम्मद नईम खान को यहां नजरबंद रखा गया है।

पुलिस और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के दल पूरी ताकत से शहर में प्रतिबंध को बनाए रखने में मुस्तैद हैं।

Also Read:  केजरीवाल ने चुनाव आयोग से पूछा- केवल मशीनें क्यों बदल दी जाती है, इनकी टेक्निकल जाँच क्यों नहीं होती?

पुलिस अधिकारी ने कहा, “अभी तक किसी भी क्षेत्र से कोई अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। यह प्रतिबंध मुहर्रम जुलूस को लेकर है, आम नागरिकों के आवागमन पर यह लागू नहीं होता।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here