INDvsNZ कानपुर टेस्ट : भारत की शानदार जीत, 197 रनों से जीत के साथ भारतीय टीम ने जीता 500वां ऐतिहासिक टेस्ट

0
>

रविचंद्रन अश्विन ने फिर से अपनी फिरकी का कमाल दिखाया और छह विकेट लिये जिससे भारत ने पहले टेस्ट क्रिकेट मैच में आज यहां न्यूजीलैंड पर 197 रन से जीत दर्ज करके अपने ऐतिहासिक 500वें टेस्ट मैच को यादगार बना दिया। न्यूजीलैंड की टीम 434 रन के मुश्किल लक्ष्य का पीछा करते हुए मैच के पांचवें और अंतिम दिन आज लंच के कुछ देर बाद 236 रन पर ढेर हो गयी।

भारत ने इस तरह से तीन मैचों की श्रृंखला में 1-0 से बढ़त बनाकर आईसीसी रैंकिंग में फिर से नंबर एक बनने की तरफ भी मजबूत कदम बढ़ाये। अश्विन ने परिस्थितियों का पूरा फायदा उठाते हुए 132 रन देकर छह विकेट लिये और इस तरह से मैच में दस विकेट लेने में कामयाब रहे।

Also Read:  कंगना का सैफ को करारा जवाब, कहा- अगर जीन से ही सब तय होता तो मैं किसान होती

मोहम्मद शमी 18 रन देकर दो विकेट ने आज दो सफलताएं हासिल करके अश्विन का अच्छा साथ दिया। रविंद्र जडेजा ने एक विकेट हासिल किया। जडेजा को उनके आलराउंड प्रदर्शन के लिये मैन आफ द मैच चुना गया। भारत ने इस जीत से एक तरह से हैट्रिक भी पूरी की।

उसने इससे पहले अपने 300वें टेस्ट मैच में 1996 में अहमदाबाद में दक्षिण अफ्रीका को 64 रन से और 400वें टेस्ट मैच में 2006 में किंग्सटन में वेस्टइंडीज को 49 रन से हराया था। भारत की यह टेस्ट मैचों में कुल 130वीं जीत है। भारत ने दिसंबर 2012 से घरेलू सरजमीं पर 12 मैचों में अपना अजेय अभियान भी जारी रखा। उसने इनमें से दस मैच जीते हैं। न्यूजीलैंड ने सुबह चार विकेट पर 93 रन से आगे खेलना शुरू किया।

Also Read:  MK Meena's appointment as Delhi ACB chief proved that Centre, LG scared of us: Vishwas

उसके कल के अविजित बल्लेबाजों ल्यूक रोंची 80 और मिशेल सैंटनर  71  ने पांचवें दिन सुबह पहले घंटे में भारत को कोई सफलता नहीं मिलने दी लेकिन इन दोनों के बीच पांचवें विकेट के लिये 102 रन की साझेदारी टूटने के बाद भारत ने जीत हासिल करने में देर नहीं लगायी। न्यूजीलैंड ने अपने आखिरी पांच विकेट 42 रन के अंदर गंवाये।

Also Read:  Fresh communal tension in Haryana's Atali, Jats remove fans from the mosque

भाषा की खबर के अनुसार, पांचवें दिन कीवी टीम ने संभलकर खेलना शुरू किया. रविवार को नाबाद बल्लेबाज ल्यूक रॉन्ची और मिचेल सैंटनर ने पारी को 4 विकेट पर 93 रन से आगे खेलना शुरू किया. दोनों ने शतकीय साझेदारी (102 रन) करते हुए टीम को मजबूती देने की कोशिश की, लेकिन ल्यूक रॉन्ची 120 गेंदों में 80 रन की जुझारू पारी खेलकर पांचवें विकेट के रूप में चलते बने. उन्हें रवींद्र जडेजा ने आउट किया. इसके बाद मोहम्मद शमी ने कीवियों को दो झटके देकर रही-सही उम्मीद भी खत्म कर दी. शमी ने बीजे वाटलिंग (18) और मार्क क्रेग (1) को लौटाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here