सूखे का जायजा लेने आए बीजेपी मंत्री के लिये बहा दिया 10 हजार लीटर पानी

0
सूखे का संकट सिर्फ लातूर में ही नहीं मंडरा रहा है बल्कि महाराष्ट्र के कई अन्य इलाके भी सूखे की मार झेल रहे है।
यहां सूखे का जायजा लेने आए बीजेपी के रेवेन्यू मंत्री के हेलिपैड से उतरते वक्त धूल से बचाने को 10 हजार लीटर पानी बहा दिया। एयरपोर्ट के करीब बने एक गांव में अस्थायी हेलिपैड के लिये हजारों लीटर पानी का इस्तेमाल किया गया। इसी हेलिपैड पर रेवेनयू मिनिस्टर एकनाथ खडसे का हेलिकाॅप्टर लैंड किया गया था।
मंत्री एकनाथ खडसे सूखे की हालात का जायजा लेने के लिये जिले में आए थे। यहां उन्हें सूखे से निपटने के लिये उठाए जा रहे कदमों की समीक्षा करनी थी। मंत्री जी का हेलिकाॅप्टर जहां लैंड हुआ वो बेलकुंड है जहां से लातूर केवल 40 किलोमीटर की मात्र दूरी पर था। मंत्री जी अगर चाहते तो लातूर में भी लैंड कर सकते थे। जहां एक अच्छा खासा एयरपोर्ट बना हुआ है।
ऐसा कहना है एनसीपी के प्रवक्ता नवाब मलिका का। एनसीपी प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि सरकार सूखे के मुद्दे पर बिल्कुल भी गम्भीर नहीं हैं। जब रेवेनयू मिनिस्टर एकनाथ खडसे पानी की इस बर्बादी के बारें में सवाल किया गया तो उनका कहना था कि मुझे इस बारें में कुछ पता नहीं है।
ये वहीं मत्रीं जी है जो सूखे की समस्या से निबटने के प्लान की समीक्षा करने आए थे, और उनको मालूम ही नहीं है कि पानी की बर्बादी महाराष्ट्र में किस तरह से की जा रही है। ऐसे समय में जब बूंद-बूंद पानी की जरूरत महाराष्ट्र को है तब केवल मंत्री जी को धूल से बचाने के लिये 10 हजार लीटर पानी बहा दिया जाता हैं।

LEAVE A REPLY