डीयू में छात्राओं की ‘पिंजरा तोड़’ मुहिम

0

दिल्ली विश्वविद्यालय की छात्राओं ने ‘पिंजरा तोड़’ नाम की मुहिम शुरू की है । ‘पिंजरा तोड़’ दिल्ली विश्वविद्यालय के होस्टलो के सख्त नियम-कानून के विरुद्ध एक अभियान है ।

डीयू की सुभाषिनी श्रिया जो की इस अभियान की सह संस्थापक हैं उनका कहना है कि यूनिवर्सिटी के नियम-कानून रूढ़िवादी तौर तरीके से बने हुऐं हैं जिनसे हम जैसी ‘परिपक्व लड़कियों’ के निजी अधिकारों पर पहरा डालने जैसा है ।

Also Read:  SC modifies order banning liquor vends along highways, reduces distance to 220 metres

दिल्ली महिला कमीशन की प्रमुख स्वाति मालीवाल ने भी इन लड़कियों के अभियान में इनका साथ देने का वादा किया है ।

Congress advt 2

मुहिम की शुरुआत की वजह जामिया यूनिवर्सिटी का लड़कियों के हॉस्टल में दिया गया नोटिस जिसमें छात्राओं के ‘नाइटआउट’ पर पाबंदी लगा दी गई थी । बाद में डीसीडब्लू के कारण बताओ नोटिस जारी करने के बाद इस पाबंदी लगाने वाली नोटिस पर रोक लगा दी गयी।

Also Read:  Delhi HC stays non-bailable warrant against ACB chief Meena till 23 September

इस मुहिम में स्त्रीवादी पूर्वाग्रही हैं जो की चाहती हैं कि सरकार महिलाओं के प्रति होने वाली घटनाओं पर रोक लगाएं न कि उनके अधिकारों पर ।
इस अभियान का नारा है- I am out tonight.

Also Read:  JNU Students Union rejects punishments, sit on indefinite hunger strike from today

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here