(Video) ऐसे भी दिया जाता है शवों को कन्धा

0

शव यात्रा का मतलब किसी को अंतिम विदाई देने से है सब लोग गम से माहौल में होते है और खामौशी से इस अंतिम क्रिया को अंजाम देते है।

Also Read:  Why this activist thinks there are attempts to create fabricated records by Gujarat University

लेकिन अगर किसी की शव यात्रा में डिजे पर छिछोर हरियाणवी गीतों से धमाल मचाया जाए, खूब डांस किया जाएं तो इसमें हैरान होने की बात नहीं होनी चाहिए।

Also Read:  Khaki innearwear allegation kicks new controversy in Madhya Pradesh literary society

बुलन्दशहर के सुनाई गांव में शादी जैसे माहौल के बीच डीजे बजाकर शवयात्रा ले जाई गई। सुनाई गांव के लोगो का मानना है कि भरा.पूरा परिवार छोड़कर जाने वाले बुजुर्गों के स्वर्गवासी होने पर दुख नहींए बल्कि खुशी मनानी चाहिए।

Also Read:  Rahul Gandhi says National Herald case is political vendetta, Jaitley says it's serious corruption

इसलियेे ही हम उत्साह के साथ इस शवयात्रा को ले जा रहे है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here