(Video) ऐसे भी दिया जाता है शवों को कन्धा

0

शव यात्रा का मतलब किसी को अंतिम विदाई देने से है सब लोग गम से माहौल में होते है और खामौशी से इस अंतिम क्रिया को अंजाम देते है।

लेकिन अगर किसी की शव यात्रा में डिजे पर छिछोर हरियाणवी गीतों से धमाल मचाया जाए, खूब डांस किया जाएं तो इसमें हैरान होने की बात नहीं होनी चाहिए।

बुलन्दशहर के सुनाई गांव में शादी जैसे माहौल के बीच डीजे बजाकर शवयात्रा ले जाई गई। सुनाई गांव के लोगो का मानना है कि भरा.पूरा परिवार छोड़कर जाने वाले बुजुर्गों के स्वर्गवासी होने पर दुख नहींए बल्कि खुशी मनानी चाहिए।

इसलियेे ही हम उत्साह के साथ इस शवयात्रा को ले जा रहे है

LEAVE A REPLY