केजरीवाल लालू की वंशवादी राजनीति के खिलाफ

0

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के नेता अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को अपनी पार्टी से कहा कि वह राष्ट्रीय जनता दल(राजद) के नेता लालू प्रसाद यादव की वंशवादी राजनीति के खिलाफ हैं और वह उस समय असहज स्थिति में हो गए, जब लालू ने उन्हें गले लगा लिया। केजरीवाल ने यहां ‘आप’ की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में कहा, “नीतीश कुमार के शपथ ग्रहण समारोह में लालू प्रसाद मंच पर थे। उन्होंने मुझसे हाथ मिलाया और मुझे अपने पास खींचकर गले लगा लिया।”

Also Read:  दिल्ली वायु प्रदूषण: CM केजरीवाल का अहम फैसला, अगले तीन दिन तक स्कूल बंद रहने के आदेश

केजरीवाल ने कहा, “इसे अलग तरह से पेश करके सवाल खड़े किए गए। हमने राजद के साथ गठबंधन नहीं किया है। हम उनके भ्रष्टाचार के रिकॉर्ड के खिलाफ हैं और हमेशा उसका विरोध करेंगे।”

केजरीवाल ने कहा, “हम वंशवादी राजनीति के खिलाफ हैं। उनके दो बेटे मंत्री हैं, हम उसके भी खिलाफ हैं।”

Also Read:  केजरीवाल ने पूछा-राहुल गांधी के पास मोदी जी के भ्रष्टाचार में शामिल होने के दस्तावेज हैं तो बेनकाब क्यों नही कर रहे हैं?

लेकिन लालू से गले लगने के कारण सोशल मीडिया पर हुई आलोचना को लेकर केजरीवाल बेफ्रिक दिखाई दिए।

केजरीवाल ने कहा, “मैं खुश हूं कि सवाल उठाए जा रहे हैं। सवाल इसलिए ही उठाए जाते हैं, क्योंकि लोगों को ‘आप’ पर भरोसा है और उन्हें लगता है कि हम दूसरों से अलग हैं।”

केजरीवाल ने कहा, “जब अन्य नेता लालूजी को गले लगाते हैं, तब कोई भी ऐसे सवाल नहीं पूछता। यह हमारे लिए अच्छा है।”

Also Read:  अगर दिल्ली से बीजेपी कुछ सीख ली होती तो आज बिहार चुनाव में उसे मुंह की नहीं खानी पड़ती

केजरीवाल ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के समर्थन के लिए भी अपना बचाव किया।

केजरीवाल ने कहा, “मैं बिहार गया था। नीतीश एक भले व्यक्ति हैं। लोगों ने हमें बताया कि नीतीश ने अच्छा काम किया है। हमने वहां भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के खिलाफ काम किया और उनका समर्थन किया।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here