कोबरापोस्ट का पत्रकार हिरासत में, वेबसाइट ने सपा एमएलए पर लगाया दबंगई का आरोप

0

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले के सिवाल खास विधानसभा क्षेत्र से सपा विधायक गुलाम मोहम्मद पर सत्ता का नशा सर चढ़ कर बोल रहा है। खोजी पत्रकारिता की नॉन प्रॉफिट वेबसाइट कोबरापोस्ट डॉट कॉम के वरिष्ठ संवाददाता मोहम्मद हिजबुल्लाह को सपा विधायक गुलाम मोहम्मद के इशारे पर मेरठ पुलिस ने 11 अगस्त को दोपहर 2.30 बजे उस समय अवैध हिरासत में ले लिया जब वो एक अंडर कवर स्टोरी पर थे। तब से उन्हे हिरासत में ही रखा गया है। सत्ता की हनक दिखाते हुए विधायक गुलाम मोहम्मद ने कोबरापोस्ट संवाददाता मोहम्मद हिजबुल्लाह का खुफिया कैमरा भी अपने कब्जे में ले लिया।

Cobrapost
Photo: Cobrapost

कोबरापोस्ट के सीनियर एडिटर आलोक उपाध्याय ने बताया कि ‘हमारे अंडरकवर रिपोर्टर हिजबुल्लाह एक इंवेस्टिगेटिव स्टोरी पर काम कर रहे थे। तहकीकात के दौरान हमारे रिपोर्टर की मुलाकात समाजवादी पार्टी के एक बड़े नेता से हुई जो खुद पार्टी के खिलाफ़ कुछ अवैध गतिविधियों में लिप्त हैं। उन्होने हमारे रिपोर्टर को बताया कि उनके साथ मेरठ के सपा के एक और नेता गुलाम मोहम्मद भी जुड़ सकते हैं और हमारे काम में मदद कर सकते हैं। इस खबर में हमारे रिपोर्टर ने मार्केटिंग एक्जीक्यूटिव बनकर सपा विधायक गुलाम मुहम्मद से फोन पर बात की। फोन पर गुलाम मोहम्मद मिलने के लिए तैयार दिखें और हमारे रिपोर्टर को अपने आवास पर बुलाया।

Also Read:  NSUI demands court monitored SIT probe into missing of JNU student

करीब दो बजे हमारे रिपोर्टर गुलाम मोहम्मद के आवास पर पहुंचे। इसके करीब एक घंटे बाद हिजबुल्लाह ने हमें फोन करके बताया कि मेरठ पुलिस ने उन्हे हिरासत में ले लिया है। जाहिर है कि गुलाम मोहम्मद और उनके साथी किसी बड़े मामले में शामिल थे। शक होने पर और कोबरापोस्ट की तहकीकात में पकड़े जाने के डर से उन्होने हमारे रिपोर्टर को अपने सत्ता की हनक दिखाते हुए मेरठ पुलिस की सहायता से पकड़वा दिया। तब से हमारे रिपोर्टर हिजबुल्ला मेरठ पुलिस की अवैध हिरासत में हैं। पुलिस के आला अधिकारियों और मीडिया को जानकारी होने के बावजूद मेरठ पुलिस ने तकरीबन 18 घंटे से हमारे रिपोर्टर को अवैध हिरासत में रखा हुआ है।

Also Read:  PSU bank employees on strike, operations hit

पिछले 18 घंटे से पत्रकार मोहम्मद हिजबुल्लाह को मेरठ के दिल्ली गेट थाने में नजरबंद करके रखा गया है। पत्रकार हिजबुल्लाह को किस आरोप में थाने में रखा गया है इसकी जानकारी पुलिस नहीं दे पा रही है। सूत्रों के मुताबिक मेरठ के दिल्ली गेट थाना पुलिस विधायक गुलाम मोहम्मद के इशारे पर ये सब कर रही है। पुलिस ने FIR रजिस्टर के दो पन्ने खाली भी रखे हुए है, ताकि समय आने पर बैक डेट में फर्जी धाराएं लगाकर पत्रकार को फंसाया जा सके।

Also Read:  Ailing Sushma Swaraj says she is touched by people's wishes

गौरतलब है कि रात से ही पत्रकार मोहम्मद हिजबुल्लाह को थाने में रोक कर रखा गया है, वो भी बिना किसी गुनाह के। जो की खुले तौर पर मानवाधिकार का उल्लंघन है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here