दिल्ली सरकार का अहम फैसला एसिड अटैक पीड़िता को निजी अस्पतालों में मिलेगा मुफ्त इलाज़

0

दिल्ली सरकार ने फैसला किया है कि वो एसिड अटैक पीडितो को प्राइवेट अस्पतालों में मुफ्त इलाज़ कराएगी| दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री श्री सत्येन्द्र जैन ने एक ओ अस डी की नियुक्ति की है जो कि नोडल अथॉरिटी के रूप में  पीडितो को सहायता प्राप्त कराएँगे

दिल्ली महिला आयोग की प्रमुख स्वाति मालीवाल का कहना है कि सभी एसिड अटैक पीड़िता को दिल्ली  सरकार द्वारा प्राइवेट अस्पतालों में मुफ्त इलाज़ कराया जायेगा|

स्वाति मालीवाल ने आज दिल्ली के उप मुख्य मंत्री मनीष सिसोदिया, सत्येन्द्र जैन एवं पांच पीड़िता के साथ मुलाकात की
और इस विषय पर चर्चा की| स्वाति मालीवाल ने ट्वीट भी किया कि सत्येन्द्र जैन ने बताया कि सरकार में उत्कृष्ट वरिष्ठ अधिकारी निजी अस्पतालों में एसिड हमले के शिकार लोगों के मुफ्त इलाज की देखरेख करेंगे|

Also Read:  LG Najeeb Jung approves Swati Maliwal's appointment as DCW chief

उन्होंने कहा ” वहां उपचार के एक दैनिक आधार पर किये  जा रहे हैं और उनमें से कई पर बहुत सारा पैसा खर्च किया है| हमारा उद्देश्य उन्हें सबसे अच्छा अस्पताल में मुफ्त इलाज उपलब्ध कराने का है| ”

उन्होंने कहा कि एक नियोजित फोर्स उनके इलाज की निगरानी करने के लिए और इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए ये कदम उठाया जायेगा जिससे भविष्य में इस तरफ कि घटनाएं न घटित हो|
श्री सत्येन्द्र जैन जो कि गृह सचिव भी हैं उन्होंने महिला आयोग को निदेर्शित करते हुए कहा है कि वो एक सूची तैयार करे जिसमे उन  सभी पीड़िताओं के केस की जानकारी हो जो अभी भी निचली अदालतों में चल रहे है और कहा कि वो उनके लिए अच्छे से अच्छे वकील करेंगे जिससे पीड़िताओं को न्याय मिल सके |

Also Read:  Another shocker from BJP leader, gangrapes of Delhi children 'small incidents'

स्वाति मालीवाल ने कहा “अभी भी बहुत सारी पीड़िताओं को न्याय नही मिला है ”

सत्येन्द्र जैन ने आशवासन दिया है कि वो बहुत ही वरिष्ठ एवं काविल वकीलों कि नियुक्ति करंगे जिससे न्याय जल्द से जल्द मिल सके
इसके अलावा उन्होंने कहा कि वो न सिर्फ न्याय दिलाएंगे , मुफ्त इलाज़ भी कराएँगे बल्कि उनको आत्मनिर्भर बनाने के लिए उनके नौकरियों की भी व्यवस्था कि जा रही है जो कि एक सराहनीय कदम है |

Also Read:  PM greets Nitish Kumar on birthday

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here